निर्जला एकादशी पर चौखट से बांध दें ये एक चीज, घर पर होगा लक्ष्मी का आगमन

निर्जला एकादशी पर चौखट से बांध दें ये एक चीज, घर पर होगा लक्ष्मी का आगमन
Share:

प्रभु श्री विष्णु को प्रसन्न एवं उनकी विशेष कृपा पाने के लिए एकादशी तिथि बेहद शुभ होती है। इस दिन उपवास रखने से जीवन की सभी परेशानियों का निवारण होने लगता है। हर माह में आने वाली एकादशी तिथि प्रभु श्री विष्णु को समर्पित है। इस दिन विधि अनुसार पूजा करने से मनोवांछित फलों की प्राप्ति होती हैं तथा घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है। प्रत्येक महीने की एकादशी तिथि का अलग महत्व होता है। हालांकि, इनमें ज्येष्ठ माह में आने वाली निर्जला एकादशी को बहुत विशेष माना जाता है। इस वर्ष निर्जला एकादशी 18 जून को है.

ज्योतिषविदों के अनुसार, तो निर्जला एकादशी पर एक दिव्य उपाय आर्थिक मोर्चे पर मालामाल बना सकता है. यह उपाय मां लक्ष्मी का स्वरूप मानी गई तुलसी से जुड़ा है. कहा जाता हैं कि तुलसी की जड़ से जुड़ा यह उपाय निर्धनता एवं दरिद्रता को आपकी दहलीज से कोसों दूर रख सकता है. आपकी तिजोरी हमेशा धन से भरी रहेगी. वास्तु के मुताबिक, निर्जला एकादशी के शुभ अवसर पर मुख्य दरवाजे की चौखट से तुलसी की जड़ बांध दीजिए. इससे दरिद्रता का नाश होगा और मां लक्ष्मी प्रसन्न होंगी. 

यह आसान उपाय घर में धन की आवक को बनाए रखता है. दरिद्रता को दूर रखता है एवं घर के सदस्यों को कभी कर्जदार नहीं होने देता. मां लक्ष्मी का मन चंचल होता है, इसलिए वो कभी एक स्थान पर नहीं ठहरती हैं. किन्तु ये उपाय घर में लक्ष्मी की कृपा को रोककर रखता है. एक लाल कपड़े में तुलसी की जड़ को अक्षत के साथ बांध दें. फिर इस कपड़े को अपने घर के मुख्य दरवाजे पर बांध दें. आप चाहें तो देवी लक्ष्मी के शुभ चरण भी दरवाजे पर लगा सकते हैं. या फिर मंगल प्रतीक स्वस्तिक का चिह्न दरवाजे पर बना सकते हैं.

क्या आपका भी ऑफिस में काम करने में नहीं लगता है मन? तो अपना लें ये उपाय, मिलेगा फायदा

इस अंग पर तिल होना है बेहद शुभ, कम उम्र में ही मिल जाती है सफलता

भूलकर भी पूजा घर में ना रखें ये 3 मूर्तियां, वरना हो जाएंगे 'कंगाल'

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -