डेढ लाख के टिकटों की हुई बुकिंग

नई दिल्ली : केंद्र सरकार द्वारा 500 रूपए और 1000 रूपए के नोट को बंद किए जाने और उनके स्थान पर नए नोट चलाए जाने के निर्णय के बाद बाजार में हड़कंप मचा हुआ है। जहां लोग कालाधन बचाने के सारे जतन कर रहे हैं वहीं लोग बैंकों में कतार में लगाकर नोट बदलने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसे में रेलवे की चांदी हो गई है। दरअसल रेलवे में बड़े पैमाने पर टिकटों की बुकिंग की गई है। मीडिया में जो जानकारी सामने आई है उसके अनुसार महाराष्ट्र के जलगांव और खामगांव रेलवे स्टेशन्स पर लाखों रूपए की टिकिट बुकिंग हो रही है।

रेलवे अपनी व्यवस्था पर नज़र रखे हुए है। रेलवे के अधिकारी ने कहा है कि दिल्ली से तिरूवनंतपुरम तक करीब 1.75 लाख रूपए के टिकट बुक हुए हैं। हालांकि मीडिया में प्रारंभिक तौर पर जानकारी सामने आई थी कि 9 नवंबर को लोगों द्वारा बड़े पैमाने पर 500 रूपए और 1000 रूपए के नोट देकर टिकट बुक करवाने के लिए कतार लगाई गई थी लेकिन रेलवे के कुछ टिकट बुकिंग काउंटर्स पर रेलवे ने सूचना जारी कर दी थी कि यहां पर 500 रूपए और 1000 रूपए के नोट नहीं लिए जा रहे हैं।

ऐसे में यात्री असमंजस की स्थिति में आ गए थे। अधिकारियों द्वारा कहा जा रहा है कि जो लोग टिकट बुक करवाकर नोट बदलने में लगे हैं उनकी जांच की जा सकती है। जलगांव स्टेशन पर टिकट बुकिंग काउंटर खुलने के दो घंटे में 5 लाख रूपए के टिकट बुक करवाए गए थे। यह रेलवे की नज़र में बना रहा। टिकट वितरण पर रेलवे की निगरानी बनी हुई है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -