फलदान में नहीं बुलाने पर युवकों ने दागी गोली

ग्वालियर: यह पूरा मामले फलदान कार्यक्रम का हैं. जहां तीन लोगों ने कार्यक्रम में घुसकर दूल्हे के चाचा को गोलियां मारकर हत्या कर दी. यह पूरी वारदात को अंजाम देने से पहले तीनों ने कार्यक्रम में बिना बुलाए दावत का खाने का आंनद लिया था फिर चंद मिनट पश्चात वापस लौटकर आए इस खुन्नस में किसान को मार डाला कि उसने भतीजे की शादी में उन्हें न्यौता क्यों नहीं दिया था. इस सगाई में हत्या से गांव में तनाव का माहौल बना हुआ है.

किसान का परिवार पुलिस के बर्ताव से खफा है कि आरोपी हत्या कर गांव से निकल गए. पुलिस ने अभी तक उनकी तलाश तक शुरु नहीं की हैं. जिससे गांव के आक्रोशित लोगों ने बडा गांव हाइवे पर किसान का शव रखकर जाम लगाने की कोशिश भी की हैं. यह मामला बड़ा बन सकता है. भांपकर पुलिस ने परिवार वालो को आश्वासन दिया हैं कि आरोपी को जल्दी ही पकड़ लिया जायेगा. शेर सिंह कुशवाह निवासी बिलारा ने कहा कि मंगलवार को बेटे देवाराम का फलदान कार्यक्रम था. उसमें घुसकर पडोसी हरेन्द्र राणा, बाली और गुडडू राणा ने भाई ऊदल सिंह (30 ) पुत्र जसवंत कुशवाह की गोली मार कर हत्या कर दी.

वही कार्यक्रम में उन्होंने गांव वालों को भी न्यौता दिया था. परन्तु हरेन्द्रसिंह, बाली और गुडडू राणा को नहीं बुलाया था. क्योंकि तीनों नशेबाज की लत में रहते हैं. गांव में उनकी शोहरत ठीक नहीं है. लेकिन जब दावत शुरु हुई तो तीनों बिना बुलाए दावत खाने आ गए थे, तो परिवार वालो ने उनका भी स्वागत किया. दावत में बैठाकर खाना खिलाया, फिर तीनों न्योता खाकर चले गए, कुछ समय पश्चात वो दोबारा कार एमपी 07 सीबी 6305 से कार्यक्रम में लौट आए. दूसरी बार जब वह वापस आया तो हरेन्द्र राणा बोर एक बंदूक लिए हुए था बाली और गुडडू उसके साथ मौजूद थे. उस समय उसने लड़के के चाचा को गोली मार दी.

यूपी पुलिस की बड़ी कामयाबी, 9 बाइक जब्त, दो चोर गिरफ्तार

दो बच्चों की माँ को नाबालिग से हुआ प्यार, लड़का बोला- अकेले में आंटी करती हैं...

भांजा लगातार कर रहा था मामी से छेड़छाड़ और फिर एक दिन...

Most Popular

- Sponsored Advert -