तीन तरह के होते हैं पॉर्न देखने वाले, आप कौनसे हैं ?

तीन तरह के होते हैं पॉर्न देखने वाले, आप कौनसे हैं ?

पॉर्न देखने की आदत अक्सर लोगों में होती है और लोग देखते भी हैं. ‘जर्नल ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन’ नाम की एक पत्रिका में ये बात सामने आई है कि तीन तरह के लोग पॉर्न देखते हैं जिनके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं. उन तीन के बारे में हम आपको बता देते हैं जिनके बारे में आप भी जान पाएंगे. ये तीन तरह के लोग होते हैं-  रिक्रिएशनल व्यूअर्स, डिस्ट्रेस्ड नॉन-कम्पलसिव व्यूअर्स और सेक्सुअली कम्पलसिव व्यूअर्स. इन लोगों की लग लग विशेषताएं होती हैं, आइये जानते हैं.

नहीं जानते होंगे वेज सेक्स के ये तरीके

* रिक्रिएशनल व्यूअर्स - ऐसे लोग सेक्स लाइफ में खुश पाए गए हैं. ज्यादा पॉर्न देखने वालों में सेक्स को लेकर इच्छा कम हो जाती है. इस तरह के पॉर्न व्यूअर्स इमोशनल और सेक्सुअल दोनों तरह से सकारात्मक सोच वाले पाए गए हैं. ये हफ्ते में करीब 24 मिनट पॉर्न देखते हैं.

* सेक्सुअली कम्पलसिव व्यूअर्स - आपको बता दें, ये वो लोग होते हैं जो बहुत ज्यादा पॉर्न देखते हैं. इस रिसर्च में ज्यादातर पुरुष ही शामिल हैं. ये पॉर्न देखने के इतना आदि हो जाते हैं कि पॉर्न देखे बिना रह ही नहीं पाते  जिसके कारण इन्हें कई तरह की परेशानी आती हैं.

* डिस्ट्रेस्ड नॉन-कम्पलसिव व्यूअर्स - ये वो लोग होते हैं जो पॉर्न सिर्फ इसलिए देखते हैं ताकि उन्हें अच्छा महसूस हो सके. इनकी लाइफ में सेक्स की कमी होती है जिसके लिए वो पॉर्न देखना पसंद करते हैं. ऐसे लोग आम तौर पर एक हफ्ते में 17 मिनट पॉर्न देखते हैं. ये लोग सेक्स टालते भी हैं और पॉर्न देखने से उसकी कमी भी पूरी करते हैं.

यह भी पढ़ें..

जानिए कैसे बनाए सेक्स करने के​ लिए माहौल

फ़र्स्ट नाईट की यह टिप्स हर वर्जिन महिला को पता होना चाहिए

रिलेशनशिप को और भी खास बनाएंगे Kiss के तरीके

?