मदरसा इस्लामियां के लिए जारी रहेगी तीन टी वाली योजना

नई दिल्ली : इन दिनों मदरसा इस्लामियां को लेकर देश भर में चर्चाओं का बाजार गर्म है .सेंट्रल शिया वक्फ बोर्ड उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने इसके बारे में विरोधी बातें कहकर इस मामले को और हवा दे दी है .

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख़्तार अब्बास नकवी ने यह घोषणा की है कि अल्पसंख्यक मंत्रालय की ओर से मदरसा इस्लामियां के लिए आरम्भ की गई 'थ्री टी' यानी टीचर, टिफीन, और टॉयलेट योजना जारी रहेगी. नकवी ने यह बात अल्पसंख्यक मंत्रालय से संबंधित निरीक्षण अधिकारियों के साथ आयोजित एक कार्यशाला में कही.

बता दें कि अल्पसंख्यक मंत्री नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय '3 ई' "एजुकेशन, इम्प्लॉय, एम्पार्टमेंट" के हल के साथ काम कर रही है इसी तरह पिछले करीब 6 महीनों में मदरसों समेत सभी अल्पसंख्यक समुदाय के हजारों शैक्षिक संस्थान को 3 टी "टीचर, टिफ़िन, टॉयलेट" की योजना से जोड़कर उन्हें मुख्यधारा की शिक्षा व्यवस्था में शामिल किया गया है.सेंट्रल शिया वक्फ बोर्ड उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष वसीम रिजवी के बयान पर नकवी ने गंभीर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि मैंने भी मदरसों में शिक्षा हासिल की है, तो क्या मैं भी आतंकवादी हूँ.

यह भी देखें

योगी सरकार ने मदरसों के लिए 40 करोड़ की राशि जारी की

मदरसा बोर्ड: मार्च के अंत में परीक्षा शुरू होने की संभावना

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -