व्हेल की उल्टी बेचने की कोशिश में 3 तस्कर गिरफ्तार, 1 करोड़ से अधिक है दाम

कवरत्ती: केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप के वन अधिकारियों ने व्हेल की उल्टी (Whale Ambergris) बेचने के मामले में कोच्चि के द्वीपों से तीन लोगों को अरेस्ट किया है. बेची जा रही व्हेल एम्बरग्रीस का मूल्य एक करोड़ रुपये से अधिक है. लक्षद्वीप के पर्यावरण और वन विभाग ने एक प्रेस विज्ञप्ति में गुरुवार को बताया कि पकड़े गए लोग एंड्रोट और अमिनी द्वीप समूह के हैं. 

उन्हें बुधवार को केरल के वन अधिकारियों ने 1.4 किलोग्राम एम्बरग्रीस (1 किलोग्राम ब्लैक एम्बरग्रीस और 400 ग्राम व्हाइट एम्बरग्रीस) के साथ पकड़ा था, जिनका मूल्य 1.4 करोड़ रुपये है. इन तीनों को तब अरेस्ट गिया गया जब वो कोच्चि के वायटिला (Vyttila) में एक प्राइवेट लॉज में व्हेल की उल्टी को बेचने का प्रयास कर रहे थे. गुप्त सूचना के आधार पर, लक्षद्वीप के वन अधिकारियों की एक टीम को ऑपरेशन के लिए कोच्चि में तैनात किया गया था. द्वीपों के वन अधिकारियों के अलावा, केरल वन विभाग और वन्यजीव अपराध नियंत्रण ब्यूरो (WCCB) के अधिकारियों ने इस ऑपरेशन में हिस्सा लिया. 

बता दें कि एम्बरग्रीस को व्हेल की उल्टी के नाम से भी जाना जाता है और इसकी बिक्री वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम 1972 के तहत प्रतिबंधित है. अधिकारियों ने कहा कि एम्बरग्रीस को लक्षद्वीप के पानी में मौजूद विशालकाय स्पर्म व्हेल की हत्या कर निकाला गया था. पर्यावरण और वन विभाग ने कहा कि आगे की छानबीन जारी है और वन्यजीव अपराध में शामिल सरगनाओं को पकड़ने की कोशिशें जारी हैं.

बलात्कार नहीं कर पाया, तो करोड़पति के बेटे ने युवती को 10वीं मंजिल से फेंका, मौत

बिहार: पेड़ से लटका मिला प्रेमी युगल का शव, हत्या की आशंका

तेलंगाना: अपनी 3 वर्षीय बेटी को बेरहमी से पीटने वाला पिता गिरफ्तार

Most Popular

- Sponsored Advert -