कोरोना संकट के बीच मैच के बाद कोरियाई एलपीजीए चैम्पियनशिप हुआ ख़त्म

दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के बाद खेला गया गोल्फ टूर्नामेंट रविवार को खत्म हुआ, जो दर्शकों के बिना खेला गया. इस महिला पीजीए प्रतियोगिता में कड़े सुरक्षा संबंधित दिशानिर्देशों का पालन किया गया. कोरियाई एलपीजीए चैम्पियनशिप में संसार की शीर्ष 10 महिला खिलाड़ियों में से तीन गोल्फर शामिल थीं.

इस प्रतियोगिता पर संसार भर की निगाहें लगी थीं, जिसके प्रसारण अधिकार अमेरिका, कनाडा व ऑस्ट्रेलिया को बेचे गये. सामान्य तौर पर दक्षिण कोरिया के बाहर इस टूर्नामेंट को इतना महत्व नहीं मिलता, लेकिन फरवरी में अमेरिकी एलपीजीए टूर्नामेंट स्थगित किये जाने के बाद यह पहला शीर्ष स्तर का महिला गोल्फ टूर्नामेंट कराया गया है.

पार्क हुन क्यूंग ने 2018 में पेशेवर बनने के बाद अपनी पहली जीत हासिल की व 180,000 डॉलर की राशि अपने नाम की. उन्होंने अंतिम दौर में पांच अंडर पार 67 का कार्ड खेला जिससे उनका स्कोर 17 अंडर रहा. बाए सियोन वू व लिम ही जियोंग क्रमश: दूसरे व तीसरे जगह पर रहीं. बता दें कि दक्षिण कोरिया की फुटबॉल लीग, के-लीग भी इस महीने की आरंभ से दोबारा मैदान पर लौट चुकी है. इसमें पहला मैच जेयनबुक मोटर्स व सुवान ब्लूविंग्स के बीच खेला गया.

एक के बाद एक खिलाड़ियों का आफरीदी पर निकल रहा क्रोध

Video: PoK में अफरीदी ने उगला जहर, पीएम मोदी पर दिया बेहद अपमानजनक बयान

AITA के पुरस्कार के लिए अंकिता रैना समेत इस खिलाड़ी को किया जा सकता है नॉमिनेट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -