ISIS की तीन लेडी रिक्रूटर करती है युवाओं का ब्रेनवॉश

नई दिल्ली : बर्बर आतंकी संगठन आईएसआईएस द्वारा भारत में एक बड़ी साजिश किए जाने का खुलासा हुआ है। इस संगठन के जो आतंकी सोशल मीडिया के जरिए यहां के युवाओं को चरमपंथी बनाने और आईएस में शामिल करने के लिए एक्टिव है, उनमें तीन महिलाएं भी शामिल है।

ये महिलाएं अर्जेंटीना, फिलिपींस और श्रीलंका से है। पिछले कुछ महीनों में भारतीय एजेंसियों ने आईेस के साथ तालुक्क रखने वाले 49 लोगों को गिरफ्तार किया था। एनआईए ने 25 को तेलंगाना, महाराष्ट्र, दिल्ली और तमिलनाडु से पकड़ा था। वहीं, अन्य 24 को दूसरी जगह से अरेस्ट किया गया था।

इन्हीं से पूछताछ के दौरान यह खुलासा हुआ है। इंटेलिजेंस एजेंसियां इन रिक्रूटर्स पर नजर बनाए हुए है। बताया जा रहा है कि ऐसे करीब 25 लोग हैं। ये सभी भारत से बाहर के हैं। सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाली इन महिलाओं का टारगेट भारत और श्रीलंका के यूथ होते है।

इन तीनों महिलाओं का नाम केरन, एजे और फातिमा बताया जा रहा है। एजेंसियों का कहना है कि ये जाहिर तौर पर इनके यूजर या डमी नाम हो सकते है। पूछताछ में पता चला है कि कैसे आईएस के हैंडलर्स सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर भारतीय युवाओं को निशाना बना रहे हैं।

इनके मुताबिक, तीनों महिला रिक्रूटर पहले यंगस्टर्स को फेसबुक या व्हाट्सएप ग्रुप्स से जोड़ती हैं। बाद में वीडियो लिंक भेजकर लड़कों का ब्रेनवॉश करती हैं। उन्हें इस्लामिक लिटरेचर भेजा जाता है। कट्टपंथियों की स्पीच भेजी जाती है। -यह बताया जाता है कि मुसलमानों के खिलाफ दुनियाभर में साजिश चल रही हैं। उन्हें हर जगह परेशान किया जा रहा है। उन्हें पैसे और बेहतर जिंदगी जीने का लालच दिया जाता है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -