थ्रेडिंग के बाद होने वाली जलन को इस तरह से करें दूर

थ्रेडिंग के बाद होने वाली जलन को इस तरह से करें दूर

थ्रेडिंग करवाना आजकल के फैशन का एक अहम हिस्सा है. हर लड़की थ्रेडिंग करवाती है जिससे उनके लुक में बदलाव आता है. थ्रेडिंग करवाते समय होने वाले दर्द के कारण कई लड़कियां इससे परहेज करती हैं अगर आपको भी थ्रेडिंग करवाने के बाद माथे पर लाल दाग पड़ जाते हैं तो इन टिप्स को अपना सकते हैं. लेल्किन याद रखे कि थ्रेडिंग के बाद आपको कुछ चीज़ों को नहीं करना है. 

थ्रेडिंग के पहले :
अपनी आइब्रो को थ्रेडिंग कराने से पहले ठंडे पानी से अच्छी तरह भिगो लें जिससे वह हिस्सा सुन्न सा हो जायेगा. आप उस हिस्से को सुन्न करने के लिये आइसक्यूब का इस्तेमाल भी कर सकती हैं.

थ्रेडिंग के बाद :
रेडनेस, जलन और खुजली से बचाने के लिये सबसे सही तरीका है कि आप अपने चेहरे को ठंडे पानी से धोते रहें. थ्रेडिंग के बाद वह हिस्सा बहुत ही ज्यादा संवेदनशील हो जाता है इसलिये उस हिस्से को बार-बार छुए नहीं.

कभी-कभी थ्रेडिंग के बाद, बालों की जड़ें बैक्टीरिया से संक्रमित हो जाती हैं और आगे चलकर घाव बनने का खतरा रहता है. एक कॉटन बॉल में थोड़ा-सा टोनर डालें और स्किन को पोछ लें. ऐसे टोनर का इस्तेमाल करें जिसमें सैलिसिलिक एसिड हो जिससे वह बैक्टीरिया को भी ख़त्म कर देगा.

उस हिस्से में होने वाली खुजली से बचने का सबसे आसान तरीका है कि आप उस पर मॉश्‍चराइजर लगा दें. ध्यान रखें कि आपके मॉश्‍चराइजर में बिलकुल भी अल्कोहल नहीं होना चाहिये.

अगर थ्रेडिंग के बाद आपको अपने माथे पर कुछ गांठे दिखाई दे रही हैं तो टी ट्री ऑयल (Tea Tree oil) को नारियल तेल में मिक्स करके उस हिस्से पर लगायें. टी ट्री ऑयल में एंटीसेप्टिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी क्षमता होने के कारण यह बहुत जल्दी आराम पहुंचाते हैं. इसके अलावा लेवेंडर ऑयल भी इसमें काफी फायदेमंद है.

अगर आप को थ्रेडिंग के बाद जलन हो रही हैं तो सीधे धूप के संपर्क में न आयें. अगर बाहर निकलना ज़रूरी हो तो कोई अच्छा सा सनस्क्रीन लगाकर ही निकलें साथ में हैट या छाते का इस्तेमाल करें.

क्या आप जानते हैं स्लीपिंग ब्यूटी के फायदे!

क्या आप भी करती हैं रोज़ मेकअप, जान लें इसके नुकसान

बालों और स्किन के लिए फायदेमंद है जायफल