गूगल ट्रांसलेट करने वालों को लगेगा बड़ा झटका, जानिए क्यों...?

दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन Google ने चीन में गूगल ट्रांसलेशन (Google Translation) सर्विस को बंद कर दिया गया है। जिसके पहले Google ने अपने प्रोडक्ट्स की मैन्यूफैक्चरिंग चीन से दूसरे देशों में शिफ्ट की थी। जिसके उपरांत अब Google ट्रांसलेट सर्विस ही बंद कर दी है। इतना ही नहीं चीन ने अधिकतर देशों की सोशल मीडिया कंपनियों द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली अधिकतर सेवाओं पर प्रतिबंध लगा कर रखा है। Google ट्रांसलेट चीन में गूगल द्वारा उपलब्ध कराई जाने वाली चुनिंदा सेवाओं में से एक कहा जाता है, जिसे अब बंद कर दिया गया है। 

क्यों किया गया बैन: खबरों का कहना है कि चीन में अमेरिकी टेक कंपनी ने ट्रांसलेशन सर्विस को कम उपयोग किए जाने की वजह से बंद कर दिया है। चीन में ट्रांसलेशन वेबसाइट खोलने पर अब एक सामान्य ‘सर्च बार’ और ‘लिंक’ दिखाई देती है, जो क्लिक करने पर उन्हें हांगकांग में उपलब्ध कंपनी के वेबपेज पर ले जाता है। यह वेबपेज चीन में प्रतिबंधित बताई जा रही है। चीन के कई उपयोगकर्ताओं ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट में शनिवार से ही ‘गूगल ट्रांसलेट’ सेवा के इस्तेमाल न कर पाने की सूचना दी है। उन्होंने बताया है कि Google के Chrome ब्राउजर में उपलब्ध अनुवाद फीचर भी अब चीन में काम नहीं कर रहा है।

गूगल ने 2017 किया था लांच: Google ने एक बयान जारी कर कहा कि चीन में ‘कम इस्तेमाल’ की वजह से ‘गूगल ट्रांसलेट’ सेवा बंद कर दी गई है। हालांकि, यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि चीन में कितने उपयोगकर्ता ‘गूगल ट्रांसलेट’ सेवा का उपयोग करते थे। Google ने 2017 में चीन के अंदर ट्रांसलेशन ऐप पेश कर दिया गया है। चीनी यूजर्स को रिझाने के लिए कंपनी ने मशहूर चीनी-अमेरिकी रैपर एमसी जिन से एड भी कराया था।

अब हर घर में इस्तेमाल होगा लैपटॉप, Jio ला रहा ये चीज

Jio ने एक बार फिर किया अपने ग्राहकों को खुश, पेश कर दिया धमाकेदार प्लान

आज ही डाउनलोड करें ये App मिलेगी कई सारी सुविधा एक साथ

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -