रोजगार पाने में प्रथम स्थान पर रहा ये राज्य, नहीं पड़ा कोरोना का असर

रोजगार पाने में प्रथम स्थान पर रहा ये राज्य, नहीं पड़ा कोरोना का असर
Share:

सम्पूर्ण देश में कोरोना वायरस लॉकडाउन के कारण स्थिति बेहाल है।इसी बीच देश का एक ऐसा भी राज्य है जहां कोरोना महामारी के इस दौर में सबसे अत्यधिक मात्रा में लोगों को रोजगार मिला है। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) कार्यों में छत्तीसगढ़ का उत्कृष्ट प्रदर्शन निरंतर जारी है। चालू वित्तीय वर्ष में जॉबकॉर्ड धारी परिवारों को 100 दिनों का रोजगार देने में छत्तीसगढ़ देश में पहले स्थान पर है। इसी वर्ष के  अप्रैल, मई और जून में कुल 55 हजार 981 परिवारों को 100 दिनों का रोजगार उपलब्ध कराया गया है। देश में 100 दिनों का रोजगार पाने वाले कुल परिवारों में अकेले छत्तीसगढ़ की भागेदारी करीब 41 फीसदी तक रही है।

आपको बता दें कि कोरोना संक्रमण काल से कुछ बीते दिनों में छत्तीसगढ इस मामले में द्वितीय स्थान पर था। भारत सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग के साथ राज्य में मनरेगा से जुडे कार्यों में बड़ी संख्या में रोजगार सृजन हुआ और ग्रामीण क्षेत्रो में काम करने वाले कामगारों को इससे जोड़ा गया है। ग्रामीणों को रोजगार प्रदान में नक्सल प्रभावित जिलों ने काफी अच्छा कार्य किया है। प्रदेश में अपने उद्देश्य के खिलाफ अत्यधिक रोजगार देने वाले पहले पांच जिले बस्तर संभाग के हैं। प्रदेश के दस जिलों ने इस वर्ष के लिए स्वीकृत लेबर बजट का 70 प्रतिशत से अधिक कार्य ख़त्म कर लिया है। 

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव ने मनरेगा में निरंतर अच्छे प्रदर्शन के लिए विभागीय अधिकारियों-कर्मचारियों के साथ पंचायत प्रतिनिधियों को शुभकामनाये दी है। उन्होंने कहा है, कि कोविड-19 के चलते जारी लाकडाउन के बावजूद मनरेगा के अंतर्गत तत्परता से शुरू हुए कार्यों से ग्रामीणों को बड़ी संख्या में सीधे रोजगार प्राप्त हुआ है। मनरेगा कार्यों ने विपरीत परिस्थितियों में भी ग्रामीण अर्थव्यवस्था को गतिशील रखने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। उन्होंने उम्मीद जताई कि पंचायत प्रतिनिधियों की जागरूकता और मनरेगा टीम की सक्रियता से प्रदेश में आगे भी मनरेगा के तहत बेहतरीन तरीके से  काम किये जाएंगे।

असली कोरोना वैक्सीन के ट्रायल में बड़ी सफलता, वैज्ञानिकों ने किया परिणामों का खुलासा

कांवड़ यात्रा पर हरिद्वार पहुंचे भक्तों को रहना होगा क्वारंटाइन, नहीं मिलेगा जल

तूतीकोरिन कस्टोडियल डेथ केस: SI सहित चार पुलिसकर्मी गिरफ्तार, लोगों ने मनाया जश्नहोटल ताज को उड़ाने की धमकी के बाद दमन में मिली संदिग्ध बोट, मचा हड़कंप

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -