गूगल टैक्स के कारण कम्पनिया आई सकते में

नई दिल्ली : आज से देश में सर्विस टैक्स को 15 फीसदी कर दिया गया है. इसके साथ ही यह भी सुनने में आ रहा है की ऑनलाइन सेक्टर में गूगल टैक्स के कारण खलबली मची हुई है. बताया जा रहा है कि ऑनलाइन एड देने वाली कम्पनियो के लिए यह टैक्स काफी महंगा पड़ने वाला है और इसे ऑनलाइन सेक्टर के लिए गूगल टैक्स कहा जा रहा है. बता दे कि आज से देश में डिजिटल एडवरटाइजिंग पर 6 फीसदी का टैक्स लगने वाला है.

बता दे कि फ़िलहाल भारत में दफ्तर नहीं है जिस कारण गूगल, फेसबुक, लिंक्ड इन जैसी कई कंपनियो के द्वारा एडवरटाइजिग से होने वाली कमाई पर टैक्स नहीं भरा जाता है. अब टैक्स लगाकर सरकार इन सभी को भी टैक्स के के दायरे में लाने का काम किया जा रहा है. लेकिन इसके अलावा इसके बारे में एक और किस्सा सामने आ रहा है. बताया जा है कि देश डिजिटल एडवरटाइजिंग पर खर्च करने वाली 64 फीसदी कंपनियां स्टार्टअप्स हैं.

और अब यदि गूगल टैक्स के कारण डिजिटल एडवरटाइजिंग महंगा हो रहा है तो इससे इनपर भी बहुत असर होने वाला है. बताया जा रहा है कि फ़ेसबुक और गूगल एड देने वाली कम्पनियो के लिए यह दिक्कत की बात हो सकती है. गौरतलब है कि गूगल के द्वारा हर सर्च और ऑनलाइन विज्ञापन पर पैसा बनाने का काम किया जाता है. अब सरकार इसपर टैक्स लागकर इसको टैक्स के दायरे ने लाने की एक कोशिश कर रही है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -