केवल उपवास में ही नहीं बल्कि आम दिनों में भी खा सकते है साबूदाने की ये डिश

साबूदाना वडा यूँ तो उपवास में ही ज्यादा खाया जाता है, पर इसके अनोखे स्वाद और कुरकुरेपन के लिये ये स्नैक के तौर पर बहुत पसंद किया जाता है, आप जिसकी चटनी या सॉस के साथ खाकर इसके स्वाद का दूगना मज़ा ले सकते है. तो आज हम आपको बताने जा रहे है इसकी रेसिपी.

सामग्री-

मीडियम साइज साबूदाना - 1 कप (150 ग्राम) भीगे हुए
आलू - 5 (300 ग्राम) उबले हुए
मूंगफली के दाने - ½ कप (100 ग्राम) भूने और दरदरी कुटे
हरा धनिया - 2-3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)]
सैंधा नमक - 1.25 छोटी चम्मच
हरी मिर्च - 2 (बारीक कटी हुई)
अदरक पेस्ट - 1 छोटी चम्मच
काली मिर्च - 8-10 (दरदरी कुटी हुई)
तेल - तलने के लिए 

विधि- 1 कप साबुदाना को धो कर 2 घंटे के लिये पानी में भिगो दीजिए, साबूदाने में भीगने के बाद अगर अतिरिक्त पानी दिखाई दे तो उसे थोड़ा दबा के हटा दीजिये.

आलू को उबाल कर छील लीजिए और अच्छी तरह बारीक मैश कर लीजिए. मसले हुए आलू को साबुदाना में डाल दीजिए साथ ही इसमें सैंधा नमक, बारीक कटी हुई हरी मिर्च, अदरक का पेस्ट, दरदरी कुटी काली मिर्च, बारीक कटा हरा धनिया और दरदरी कुटी हुई मूगफली डाल कर सभी चीजों को अच्छी तरह मिलने तक मिला लीजिये. वड़े बनाने के लिए मिश्रण तैयार है.

कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कीजिये, याद रहे तेल काफी अच्छा गरम होना चाहिये,  कम गरम तेल में साबूदाने का पेस्ट डालेंगे तो वो बिखर जाएगा. मिश्रण से थोड़ा सा गोल कीजिये और हथेली से  इसी तरह से सारे मिश्रण से वड़े बना कर तैयार कर लीजिए.

एक वड़ा को गरम तेल में डालिये, वडा़ ठीक से बन रहा है तो 3-4 वड़े कढ़ाई में डालिये और साबूदाना वड़ों को पलट पलट कर सुनहरा होने तक तल लीजिये. स्वादिष्ट साबूदाना वड़े तैयार हैं. गरमा गरम साबूदाना वड़े को हरे धनिये की चटनी, मीठी चटनी या टमैटो सॉसे के साथ परोसिये.

क्या आप भी छोड़ना चाहते है धूम्रपान तो आज ही आपनाएँ ये टिप्स

क्या आपकी भी आँखों से आता है पानी तो इस तरह करें इलाज

अब इन घरेलू तरीकों से मिलेगा कान के दर्द से निजात

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -