सबसे पहले नए साल का स्वागत इस देश में हुआ

साल 2017 को अलविदा कहकर नए साल 2018 का स्वागत, जोश और उत्साह के साथ पूरे देश और दुनियाभर के लोगों द्वारा किया गया. नए साल के जश्न को मौज-मस्ती और धूमधाम के साथ लोगों ने सेलिब्रेट किया और अपने प्रियजनों को शुभकामनाएँ दी.  पर क्या आपको पता है कि दुनिया भर में अलग-अलग टाइम ज़ोन होता है. तो ऐसा कौनसा देश है जहां सबसे पहले नए वर्ष ने दस्तक दी.

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ कई वरिष्ठ हस्तियों ने देशवासियों को नववर्ष की शुभकामनाएं दी. देश- विदेश में हर कोई नए साल के आगमन पर उत्साहित है. लेकिन दुनिया का एक देश है जहां सबसे पहले नए साल का जश्न मनाया गया. जब भारत में  31 दिसंबर की शाम जब चार बज रहे थे, तब दुनिया के दूसरे छोर पर स्थित छोटा सा देश सामोआ नववर्ष का स्वागत कर रहा था. जी हाँ, दुनिया के छोटे से देश सामोआ ने सबसे पहले नववर्ष का स्वागत किया. इसके साथ ही टोंगा, क्रिसमस द्वीप व किरिबाती में भी नववर्ष का जश्न मनाया गया.

इसके बाद जब भारत में करीब साढ़े चार बजे थे तब न्यूजीलैंड के ऑकलैंड ने नववर्ष का जश्न मनाया. इस मौके पर यहां शानदार आतिशबाजी की गई जिसमें 3 हजार से अधिक रॉकेट छोड़े गए. न्यूजीलैंड के बाद क्रमश: ऑस्ट्रेलिया, जापान और दक्षिण कोरिया ने नववर्ष का जश्न मनाया. इनके बाद यूरोप में नए साल के जश्न का आग़ाज़ हुआ. 

इस तरह विश्वभर में न्यूईयर पर हुआ सेलिब्रेशन

सोनिया के साथ गोवा में न्यू इयर सेलिब्रेट करेंगे राहुल गांधी

आखिर क्यों 1 जनवरी को ही सेलिब्रेट किया जाता है न्यू ईयर?

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -