रेप के आरोपों से बचाएगा यह एंटी रेप एप

वाशिंगटन. रेप के झूठे केसो को देखते हुए एक एप बनाया गया है. यह एप बनाने वाले अमेरिकी नागरिक बोफिन गेराल्ड मार्क है. इस एप में प्रेमी जोड़े सेक्स से पहले इसके लिए अपनी सहमति के बारे में बताएगे. बोफिन ने बताया कि इलेक्ट्रॉनिक रूप से स्टोर किए जाने वाले रजामंदी से सेक्स की पुष्टि करने वाला सिस्टम और मैथेड बनाया है. इसके लिए लाइसेंस के लिए उन्होंने अनुरोध किया है.

इस एप के माध्यम से रेप के मामलो को कम करने में मदद मिल सकेगी. साथ ही क़ानूनी मामलो को सुलझाने में सहायता मिल सकेगी. संबंध बनाने के पूर्व दोनों पार्टनर को एप के जरिये एक सेल्फी लेनी होगी. फिर इसे सेन्ट्रल कम्प्यूटर सिस्टम पर भेजना होगा. कम्प्यूटर के वेरिफाई करने के बाद वह प्रेमी जोड़े को यूनिक पासवर्ड भेज देगा. इसके बाद वे शारीरिक संबंध बना सकेंगे.

बोफिन ने अपने पेटेंट आवेदन में लिखा है कि सोशल मीडिया की लोकप्रियता और विकास के साथ समाज यौन उत्पीड़न से संबंधित घटनाओं के बारे में अधिक जागरूक हो गया है. बोफिन मार्क ने कहा कि उनका यह आविष्कार सहमति से संबंध बनाने के बाद रेप के आरोपों का अंत करेगा.

ये भी पढ़े 

शहाबुद्दीन को पत्रकार रंजन हत्याकांड में सीबीआई ने बनाया आरोपी

मेनका गाँधी ने कहा, मीडिया का हर रेप की रिपोर्टिंग करना सही नहीं

जेवर-बुलंदशहर गैंगरेप मेडिकल रिपोर्ट - महिलाओ के साथ नहीं हुआ बलात्कार

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -