सफलता के रास्ते पर एक और वैक्सीन, स्पूतनिक V के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी

Jan 16 2021 10:50 AM
सफलता के रास्ते पर एक और वैक्सीन, स्पूतनिक V के तीसरे चरण के ट्रायल को मंजूरी

नई दिल्ली: भारत में आज से कोरोना वैक्सीन लगना शुरू हो गया है. वहीं कोरोना की वैक्सीन बना रही एक और कंपनी डॉ रेड्डी लैबोरेटरीज को स्पूतनिक V के तीसरे चरण के ट्रायल की अनुमति मिल गई है. स्पूतनिक V रूस की कंपनी द्वारा बनाई गई कोरोना वैक्सीन है. ये वैक्सीन अभी प्रायोगिक अवस्था में है. 

DCGI ने डॉ रेड्डी लैबोरेटरीज को कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल करने की इजाजत दी है. हैदराबाद स्थित डॉ रेड्डीज का कहना है कि तीसरे चरण में 1500 लोगों पर इस वैक्सीन का टेस्ट पहले किया जाएगा. बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, दुनिया में 200 से अधिक कंपनियां कोरोना  वैक्सीन तैयार कर रही हैं, इनमें से तक़रीबन 30 कंपनियां भारत की हैं. भारत में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ़ इंडिया (SII) की कोविशील्ड वैक्सीन, भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को इमरजेंसी इस्तेमाल की अनुमति मिल चुकी है. शनिवार को इन दोनों वैक्सीन का इस्तेमाल प्रथम चरण के टीकाकरण में किया जा रहा है. 

इसके साथ ही गुजरात की जायकोविड वैक्सीन भी ट्रायल स्टेज में है. इस श्रृंखला में डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज भी शामिल हो गई है. डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज को तीसरे चरण के ट्रायल की अनुमति देने से पहले डेटा और सुरक्षा निगरानी बोर्ड (DSMB) ने इसके दूसरे चरण के परीक्षण से संबंधित आंकड़ों का अध्ययन किया और इससे संतुष्ट होने के बाद ही तीसरे चरण के लिए स्वयंसेवकों को भर्ती करने की अनुशंसा की है.

गेल इंडिया ने 6.97 करोड़ के इक्विटी शेयरों को वापस खरीदने को दी मंजूरी

स्टॉक पर साप्ताहिक नजर, निफ्टी 0.60 पीसी पर

भारतीय रैली फिन कॉर्प ने आईपीओ से पहले 31 एंकर निवेशकों से जुटाए 1,390-करोड़ रुपये