स्लीवलेस पहनने का शौक है तो इन बातों को ध्यान में रखें

स्लीवलेस पहनने का शौक है तो इन बातों को ध्यान में रखें

यूथ्स में स्लीवलेस का काफी चलन है. लेकिन इसे अगर धुप के समय पहना जाए तो इससे स्किन पर टैन या पैचेस पड़ जाते हैं जो स्किन को खराब कर देते हैं. अगर आप धुप में भी स्लीवलेस पहनना चाहते हैं तो कुछ बातोंब का ध्यान रखें जिससे आपको भी फायदा मिलेगी और स्किन पर टैनिंग पर परेशानी नहीं होगी. 

सूरज की घातक किरणों से सुरक्षा : यूवीए किरणों से त्वचा में दाग धब्बे और झुर्रियाँ भी आ जाती हैं, वहीं यूवीबी किरणें त्वचा को बदरंग कर देती हैं. इसलिए सूरज की किरणों से त्वचा की सुरक्षा के लिए धूप में निकलने से पहले बाहों पर हमेशा एसपीएफ 30 एवं पीए ++ वाला बोर्ड स्पेक्ट्रम संस्क्रीन लगाना चाहिए. धूप में रहने के दौरान हर चार घंटे में त्वचा पर सनस्क्रीन लगाना चाहिए.

धूप में बाहों को अच्छी तरह ढंककर निकलें : ज्यादा समय तक धूप में रहने से बांहों में झाइयां पड़ जाती हैं और रंग काला पड़ने लगता है. यदि आप धूप में निकलते वक्त खुली बाहों वाली पोशाक के बदले पूरी बांह की पोशाक पहनने का विकल्प चुनती हैं, तो पाएंगी कि इससे आपकी बाहें नर्म और कोमल बनी रहती हैं. गर्मी के मौसम में सूती कपड़े और हल्के रंग के पोशाक पहनना ज्यादा सही रहता है.

घरेलू उपाय : बाहों पर गहरे दाग धब्बों को हटाने के लिए घरेलू उबटन कारगर साबित हो सकते हैं. उबटन लगाने से त्वचा की ऊपरी बेजार और रूखी परत हट जाती है और त्वचा कोमल और चमकदार बनती है. उबटन बनाने के लिए छाछ और बेसन का पतला पेस्ट बनाकर बाहों पर लगाएं और सूखने के बाद हल्के हाथों से मलते हुए पानी से धो डालें. ऐसा सप्ताह में एक से दो बार करें.

नेचुरल तरीके से हटा सकती हैं आँखों का मेकअप, नहीं होगा साइड इफ़ेक्ट

सेहत से जुडी कई परेशानियों को दूर कर सकती है ताम्बे की अंगूठी

सौंदर्य के लिए भी फायदेमंद है ताम्बे के बर्तन