कैब बुकिंग के दौरान ध्यान रखें ये बातें, नहीं होगा अधिक खर्च

आजकल आपने देखा होगा कि सड़कों पर ऑटो और टैक्सी दिखना कम हो गए हैं क्योंकि उनकी जगह अब कैब ने ली हैं. इसमें उन्हें फायदे भी होते हैं जिसके चलते ही लोग कैब का इस्तेमाल करने लगे हैं. आखिर कैब का सफ़र है ही इतना सहूलियत से भरा और किफायती की सभी इससे सफ़र करना पसंद करते हैं. लेकिन कभीकभार अनजाने में कैब का यह सफ़र हमारी जेब के लिए भारी पड़ जाता हैं. तो जब भी कैब को बुक करें तो कुछ बातों का ध्यान दें ताकि आपका खर्च भी कम हो.  

* एक्स्ट्रा चार्ज देने से बचें
पीक समय में जैसे बारिश, त्योहार में कैब अपना किराया बढ़ा देती हैं, ऐसी स्थिति में कैब बुक कराते समय आपके सामने 1.5x, 2 x लिखा होता है और यूजर इस बात पर ध्यान न देते हुए कैब बुक करा देते हैं. आपको बता दें कि 1.5 x का मतलब होता है डेढ़ गुना किराया और दो x का मतलब होता है दोगुना किराया.

* बुकिंग केंसिल करने पर लगता है किराया
कैब कंपनियां कस्टमर को अक्सर ये बातें नहीं बताती लेकिन हम आपको बता दें कि कैब बुक कराने के दो मिनट बाद आप उसे कैंसिल करा देते हैं या ड्राइवर आपकी लोकेशन तक पहुचंकर तीन मिनट तक इंतजार करता है फिर आप कैब केंसिल करा देते हैं, तो कंपनी इसका कैंसिलेशन चार्ज आपकी अगली राइड में वसूलती है.

* ऑफर्स
कंपनी आपको समय समय पर चल रहे ऑफर्स का नोटिफिकेशन भेजती रहती है. जिसमें वह एक कूपन कोड देती है जिसे आपको अपनी राइड के समय लगाना होता है. तो हमेशा कैब बुक कराने से पहले ऐसे ऑफर्स को चैक कर लें.

* किराया कंपेयर करें
किसी भी कंपनी की कैब बुक करने से पहले दूसरी कंपनी की कैब से उसका किराया कंपेयर कर लें. आप इसके लिए कई वेबसाइट का सहारा भी ले सकते हैं.

गाड़ी के इंजन में छिपा बैठा था 8 फुट लंबा सांप, देखकर उड़े लोगों के होश

चार नर्सों ने अस्पताल में बनाया टिक-टोक वीडियो, मिली ये सजा..

3 लोगों की मीटिंग और चाय-कॉफी का बिल आया डेढ़ लाख...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -