अवसाद से मुक्ति दिलाते हैं ये साधारण से उपाय

हर इंसान को अपने जीवन में कई समस्याओं से होकर गुजरना पड़ता है। और जब यह समस्या लगातार आते ही रहती है या फिर मानव के जीवन से जाने का नाम नहीं लेती, तो इसी समस्या की वजह से वह तनाव से ग्रषित होने लगता है। और यह समस्या धीरे-धीरे मानसिक समस्या के रूप में परिवर्तित होते जाती है। और जब यह समस्या मानसिक तनाव का रूप ले लेती है, तो इसका कारण चन्द्रमा को माना जाता है, जब चन्द्रमा कमजोर होता है तो व्यक्ति को मानसिक परेशानी से गुजरना पड़ता है। अगर आप भी जीवन में अवसाद से परेशान हैं और इससे मुक्ति पाना चाहते हैं, तो यहां पर आज हम आपसे इसी उपाय के बारे में चर्चा करने वाले हैं। तो चलिए जानते हैं इस परेशानी के उपाय के बारे में....

कब व्यक्ति डिप्रेशन में जाता है – शनि या राहु, चंद्रमा को प्रभावित करें, तो डिप्रेशन की स्थिति बन जाती है। इसमें शनि वाला डिप्रेशन कभी-कभी अध्यात्म पैदा करता है। राहु गृह का डिप्रेशन कल्पना की बीमारियां पैदा कर देता है। चंद्रमा अस्त होने के बाद व्यक्ति को अधिक डिप्रेशन होने लगता है। चंद्रमा अगर खराब हो और बुध ठीक हो, तो व्यक्ति अवसाद से निकल जाता है। अगर बुध ठीक ना हो तो डिप्रेशन से निकलना कठिन होता है। कभी-कभी बृहस्पति भी व्यक्ति को डिप्रेशन से बाहर निकाल देता है।

ज्योतिषीय उपाय – डिप्रेशन दूर करने में आसन और प्राणायाम बहुत लाभकारी होते हैं। रोजाना सुबह स्नान कर सूर्य को जल अर्पित करें। ज्यादा से ज्यादा रोशनी का प्रयोग करें। दिन में एक केला जरूर खाएं। सुबह और शाम 108 बार गायत्री मंत्र का जाप करें। सलाह लेकर एक पीला पुखराज या पन्ना धारण करें। मोती डिप्रेशन में धारण नहीं करना चाहिए।

 

बहुत ही कम लोग जानते हैं अनार की लकड़ी के धार्मिक महत्व के बारे में..

यही वो महिलाएं हैं, जो शादी के बाद बदल देती हैं पुरूषों का भाग्य

अनार बच्चे की पढ़ाई में सुधार के साथ बनाता है आपको धनवान

जीवन की आधी से ज्यादा समस्या का समाधान है यहां पर

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -