धूप के ये चमत्कारी गुण, जो करते है बुरी शक्तियों का विनाश

हिन्दू धर्म में धूप का बहुत महत्व है सभी कर्म कांडों के पश्चात धूप देना फलदायक माना जाता है धूप देने से वातावरण शुद्ध होता है एवं नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है. यदि व्यक्ति श्राध्द के दिनों में धूप देता है तो उसके पितरों को शांति प्रापर होती है तथा उनकी आत्मा तृप्त होकर मोक्ष प्राप्त करती है. आज हम आपको धूप के बारे में बताएँगे की धूप कितने प्रकार से दी जाती है और इनसे क्या लाभ प्राप्त होता है.

1 कपूर की धूप से लाभ 
कपूरकी धूप देने से वातावरण शुद्ध होता है और जहाँ भी कपूर की धूप की जाती है वहां से नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है.वास्तु शास्त्र में भी कपूर को बहुत महत्वपूर्ण माना गया है इसका उपयोग वास्तु दोष को दूर करने में किया जाता है.

2 गुग्गुल की धूप से लाभ 
गुग्गुल एक सुगन्धित वास्तु है जिसका उपयोग इत्र ,आयुर्वेदिक दवा और सुगंध के लिए किया जाता है इसकी धूप देने से सारा वातावरण सुगंध से भर जाता है गुग्गुल की सुगंध हमारे मस्तिष्क को शांत कर उसके दर्द से मुक्त करती है तथा हमारे ह्रदय के दर्द में भी लाभ पहुंचाती है.

3 लोबान की धूप से लाभ 
लोबान भी एक सुगन्धित पदार्थ है जिसका उपयोग अधिकतर दरगाह पर किया जाता है ऐसी मान्यता है की लोबान की धूप से पारलोकिक शक्तियों को आकर्षित किया जाता है.

4 गुड़ और घी की धूप से लाभ 
गुड़ और घी की धूप देने से जो सुगंध उत्पन्न होती है उसे अग्निहोत्र सुगंध कहते है ब्रहस्पतिवार एवं रविवार को गुड़ और घी की दूप देने से व्यक्ति का तनाव दूर होता है तथा उसके घर में कलह भी नहीं रहता और लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहती है. यदि व्यक्ति प्रतिदिन इन कार्यों को अपनाता है तो उसके घर से नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है तथा उसके घर  शान्ति बनी रहती है. 

 

तो घर और ऑफिस में कभी नहीं हो सकती चोरी

ऐसे व्यक्ति विपरीत परिस्थिति में भी नहीं हारते

बजरंगबली करेंगे सारे कष्टों को दूर, बस करना होगा ये काम

ये कांटेदार पौधे जो घर में लाते हैं खुशहाली

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -