कैंसर होने से पहले शरीर में दिखाई देते हैं ये पांच लक्षण, लापरवाही से हो सकती है मौत

कैंसर होने से पहले शरीर में दिखाई देते हैं ये पांच लक्षण, लापरवाही से हो सकती है मौत
Share:

दुनिया भर में कैंसर के रोगियों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है, जिसका मुख्य कारण अक्सर जीवनशैली और आहार संबंधी कारक बताए जाते हैं। जबकि कैंसर को आमतौर पर जीवन के लिए ख़तरा माना जाता है, लेकिन इसकी घातक प्रकृति इस तथ्य में निहित है कि प्रारंभिक लक्षण अक्सर नज़रअंदाज़ हो जाते हैं। आज, हम कैंसर के शुरुआती लक्षणों पर विस्तार से चर्चा करेंगे, 15 सामान्य संकेतकों पर प्रकाश डालेंगे जिन्हें अक्सर अनदेखा कर दिया जाता है।

कैंसर के शुरुआती लक्षण

गर्भाशय-ग्रीवा और डिम्बग्रंथि कैंसर के लक्षण

मासिक धर्म चक्र के दौरान अनियमित परिवर्तन का अनुभव करने वाली महिलाओं को तुरंत डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए, क्योंकि ये गर्भाशय ग्रीवा कैंसर के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं।

कोलन और प्रोस्टेट कैंसर के लक्षण

शौचालय की आदतों में परिवर्तन, जैसे बार-बार पेशाब आना, बृहदांत्र या प्रोस्टेट कैंसर की शुरुआत का संकेत हो सकता है।

अंडाशयी कैंसर

पेट में लगातार सूजन या भारीपन महसूस होना, जो हर सप्ताह होता है, डिम्बग्रंथि के कैंसर का संकेत हो सकता है।

स्तन कैंसर

स्तन के स्वरूप में परिवर्तन, भारीपन, गांठ, निप्पल का रंग बदलना या स्राव होना स्तन कैंसर के प्रारंभिक लक्षण हैं।

फेफड़े का कैंसर

कई दिनों तक लगातार खांसी आना, फेफड़ों के कैंसर या तपेदिक का संकेत हो सकता है।

मस्तिष्क का ट्यूमर

लम्बे समय तक लगातार सिरदर्द होना मस्तिष्क ट्यूमर का प्रारंभिक लक्षण हो सकता है।

पेट या ग्रासनली कैंसर

भोजन या तरल पदार्थ निगलने में कठिनाई होना पेट या ग्रासनली कैंसर का संकेत हो सकता है।

रक्त कैंसर

जांघों या शरीर पर दिखाई देने वाले नीले धब्बे, जो चोट के निशान जैसे दिखते हैं, रक्त कैंसर के प्रारंभिक लक्षण हो सकते हैं।

बार-बार बुखार या संक्रमण

बार-बार बुखार आना या संक्रमण होना ल्यूकेमिया कैंसर के शुरुआती लक्षण हो सकते हैं।

मौखिक कैंसर

मुंह में लंबे समय तक रहने वाले घाव या बार-बार होने वाले अल्सर मुंह के कैंसर के शुरुआती चरण का संकेत हो सकते हैं। धूम्रपान करने वालों में इसका जोखिम काफी अधिक होता है।

रजोनिवृत्ति के बाद रक्तस्राव

रजोनिवृत्ति के बाद रक्तस्राव को कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह गर्भाशय या ग्रीवा कैंसर का प्रारंभिक संकेत हो सकता है।

अन्य संकेत

कैंसर के कुछ शुरुआती लक्षणों में अचानक वजन बढ़ना या घटना, भूख न लगना और बाल झड़ना शामिल हैं। इन्हें भी नज़रअंदाज़ नहीं किया जाना चाहिए। इन शुरुआती संकेतों को समझने से समय रहते बीमारी का पता लगाया जा सकता है, जिससे उपचार के परिणाम और बचने की दर में उल्लेखनीय सुधार हो सकता है। इस घातक बीमारी से निपटने के लिए नियमित स्वास्थ्य जांच और अपने शरीर के प्रति जागरूकता बहुत ज़रूरी कदम हैं। कैंसर के खिलाफ़ लड़ाई में शुरुआती पहचान ही सबसे शक्तिशाली हथियार है। इन शुरुआती चेतावनी संकेतों को पहचानकर और उनका समाधान करके, व्यक्ति अपने स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए सक्रिय कदम उठा सकते हैं। जानकारी रखें, सतर्क रहें और अपनी सेहत को प्राथमिकता दें।

मेष राशि के जातकों के लिए आज का दिन ऐसा रहने वाला है, जानिए अपना राशिफल.....

नए हफ्ते में होंगे इन 5 राशियों के बिगड़े काम, पढ़ें साप्ताहिक भाग्यशाली राशियां

आज इस राशि के लोग दूसरों से सहयोग प्राप्त करने में सफल होंगे, जानिए अपना राशिफल

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -