MP की इन पांच हस्तियों को मिलेगा पद्मश्री

भोपाल: गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर भारत सरकार ने मंगलवार को पद्म पुरस्कारों का ऐलान किया। इनमें भोपाल के डॉ. एनपी मिश्रा सहित एमपी की पांच हस्तियों को पद्म पुरस्कार दिए जाएंगे। डॉ. मिश्रा के साथ भोपाल की ही दुर्गाबाई व्याम, डिंडोरी के अर्जुन सिंह धुर्वे, सागर के रामसहाय पांडे, छतरपुर के अवध किशोर जाड़िया को पद्मश्री से सम्मानित किया जाएगा। 
 
डॉ. एनपी मिश्रा (मरणोपरांत), चिकित्सा:- भोपाल गैस कांड के चलते रोगियों के उपचार के लिए स्वयं मोर्चा संभाला। 10 हजार से ज्यादा रोगियों का उपचार किया। 
दुर्गाबाई व्याम (कला):- मूल तौर पर डिंडोरी जिले की रहने वाली है। 1996 में भोपाल आई तथा यहीं की हो गई। गांव के रीति-रिवाजों को कागज पर उकेरा। 
अर्जुन सिंह धुर्वे (कला):- बैगा जनजाति समाज के पहले स्नातकोत्तर धुर्वे प्रधान शिक्षक भी रहे। बैगा परधौनी नृत्य में मोर, हाथी एवं घोड़ा आदि के मुखौटे में पुरे भारत में प्रस्तुति दी।  
अवध किशोर जड़िया (शिक्षा एवं साहित्य):- पेशे से डॉक्टर हैं। पर्चे पर एक ओर दवा तो दूसरी तरफ कविताएं लिखते। 5 किताबें प्रकाशित हो चुकीं।  
रामसहाय पांडे (कला):- 12 वर्ष की आयु में राई नृत्य आरम्भ किया। सामान्य घरों की लड़कियां भी अब राई सीख रही हैं। कई देशों में अपनी प्रस्तुति दी।

आर्मी की 73 साल पुरानी यूनिफार्म पहन राजपथ पर उतरी राजपूत रेजिमेंट, हाथ में PAK को धुल चटाने वाली राइफल

75 वर्षों में पहली बार PIA की विशेष फ्लाइट से भारत आएँगे पाकिस्तानी श्रद्धालु

गोलकीपर श्रीजेश का बड़ा बयान, कहा- "टूर्नामेंट जीतकर पेरिस ओलंपिक..."

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -