सेक्स एजुकेशन के मामले में ये देश हैं सबसे आगे

सेक्स एजुकेशन के मामले में ये देश हैं सबसे आगे

एक तरफ जहां हमारे देश में सेक्स का नाम सुनते ही सहम जाते हैं. भारत में लोग सेक्स एजुकेशन के मामले में अन्य देशों से काफी पीछे हैं. स्कूल सिलेबस में बच्चों को सेक्स एजुकेशन दी जानी चाहिए इस मुद्दे पर पहले भी काफी चर्चाएँ हो चुकी हैं पर यह विवादस्पद विषय बनकर रह गया है. जानकर हैरानी होगी कि  दुनिया में कई ऐसे देश जहां पर सेक्स एजुकेशन को स्कुल सिलेबस में जोड़ा गया है.

स्वीडन : यूरोपीय देश स्वीडेन में सेक्स एजुकेशन का स्तर काफी बेहतर है. जहां स्कूलों में बच्चों को सेक्स एजुकेशन दी जाती है. यहां किसी को भी इससे आपत्ति नहीं है. सेक्स एजुकेशन के लिए जहां के स्कूलों में अलग से पीरियड लगाए जाते हैं. इनके अलावा यहां कोचिंगों में  सेक्स एजुकेशन दी जाती है.

फ्रांस : फ्रांस में भी सेक्स अवेयरनेस के लिए स्कूलों, कॉलेजों में सेक्स एजुकेशन की क्लास लगाई जाती हैं. इस वजह से यहां पर बलात्कार जैसे अपराध कम होते हैं. 

नीदरलैंड्स : नीदरलैंड्स के स्कूली सिलेबस में सेक्स एजुकेशन जोड़ दी गई है. यहां की अधिकांश लड़कियां 13 से 15 तक की उम्र में अपनी विर्जिनिटी खो देती हैं. जहां सेक्स के लिए लोग काफी जागरूक है. 

डेनमार्क : यूरोपीय देश डेनमार्क में लोग सेक्स के प्रति काफी जागरूक रहते हैं. सेक्स से जुड़ी समस्याओं के लिए यहां के लोग बिलकुल भी लापरवाही नहीं करते हैं. 

घट रही पुरुषों में बच्चे पैदा करने की शक्ति, ऐसे करें दूर

बर्फ का टुकड़ा बना सकता है सेक्स को और बेहतर

बैडरूम के अलावा इन जगहों पर सेक्स पसंद करती हैं लड़कियां

?