किसान, भाजपा कार्यकर्ता और पत्रकार... लखीमपुर हिंसा में गई इन 8 लोगों की जान

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा में अब तक 8 लोगों की जान गई है. कल हुई हिंसा में देर रात तक एक घायल पत्रकार ने भी दम तोड़ दिया है. किसान नेताओं का इल्जाम है कि केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा ने प्रदर्शन कर रहे किसानों पर गाड़ी चढ़ाई, जिससे चार किसानों की जान चली गई, साथ ही कई किसान जख्मी हुए हैं. वहीं केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि किसानों की हिंसा में भाजपा के तीन कार्यकर्ताओं और कार ड्राइवर की मौत हुई है. 

हिंसा में हुई इन लोगों की मौत:-

1- रमन कश्यप ( स्थानीय पत्रकार)
2- दलजीत सिंह (32) पुत्र हरजीत सिंह- नापपारा, बहराइच (किसान)
3- गुरविंदर सिंह (20) पुत्र सत्यवीर सिंह- नानपारा, बहराइच (किसान)
4- लवप्रीत सिंह (20) पुत्र सतनाम सिंह- चौखडा फार्म मझगईं (किसान)
5- छत्र सिंह पुत्र अज्ञात (किसान)
6- शुभम मिश्र पुत्र विजय कुमार मिश्र, शिवपुरी (बीजेपी नेता)
7- हरिओम मिश्र पुत्र परसेहरा, फरधान (अजय मिश्रा का ड्राइवर)
8- श्यामसुंदर पुत्र बालक राम सिंघहा, कलां सिंगाही (बीजेपी कार्यकर्ता)

इस हिंसा में तीन भाजपा कार्यकर्ताओं की मौत हुई है. इनके नाम हैं- हरिओम मिश्र, शुभम मिश्र और श्याम सुंदर. हरिओम भाजपा कार्यकर्ता होने के साथ ही केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के कार ड्राइवर भी थे. परिवार की गाड़ी चलाते थे. वह चार बहनों के इकलौता भाई थे. शुभम मिश्र, भाजपा बूथ अध्यक्ष थे और दो साल पहले ही उनका विवाह हुआ था. श्याम सुंदर भी भाजपा कार्यकर्ता थे.

200 से अधिक बेरोजगार युवा करेंगे नामांकन पत्र

पेट्रोल-डीजल पर महंगाई की मार, रोजाना आसमान छू रहे है दाम

अंतर्राष्ट्रीय पर्यटकों को 15 अक्टूबर तक दी जा सकती है भारत की यात्रा करने की अनुमति

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -