रिहाई का इंतज़ार: अपनी सजा पूरी करने के बाद भी पाकिस्तानी जेल में कैद हैं ये 5 भारतीय

रिहाई का इंतज़ार: अपनी सजा पूरी करने के बाद भी पाकिस्तानी जेल में कैद हैं ये 5 भारतीय

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की फील्ड जनरल कोर्ट मार्शल (FGCM) द्वारा दी गई सजा काट चुके पांच भारतीयों को पाकिस्तान सरकार रिहा नहीं कर रही है। लाहौर की केंद्रीय कारागार में पूरी सजा काट लेने के बाद भी पांच भारतीयों को अपनी रिहाई की प्रतीक्षा है। इन भारतीयों के नाम बिरजू डंग उर्फ बिरंचू, विज्ञान कुमार, घनश्याम कुमार और सतीश भोग और सोनू सिंह हैं। सोनू सिंह कराची सेंट्रल जेल में बंद है। जानकारी के मुताबिक, बिरजू डंग ने 29 अप्रैल, 2007 को अपनी सजा पूरी कर ली थी। 

सजा पूरी करने के 13 साल से ज्यादा समय गुजर जाने के बाद भी पाकिस्तान सरकार उन्हें रिहा करने को तैयार नहीं है। घनश्याम व विज्ञान कुमार की सजा 19 जून 2014 को पूरी हो गई थी। सतीश भोग की सजा छह मई 2015 को पूरी हुई थी। इसी तरह कराची सेंट्रल जेल में कैद सोनू सिंह ने तीन मार्च 2012 को सजा पूरी कर ली थी। इस दौरान दोनों देशों ने कई बार अपने-अपने देशों की जेलों में पूरी सजा काट चुके नागरिकों व मछुआरों को रिहा किया है।  

इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास ने बार-बार इन नागरिकों की रिहाई की मांग को लेकर पाकिस्तान सरकार को अवगत कराया है। किन्तु अभी तक इन भारतीयों को रिहा नहीं किया गया है। पाकिस्तान सरकार की तरफ से इन भारतीयों की रिहाई पर गंभीरता न दिखाने पर इस्लामाबाद स्थित भारतीय हाई कमीशन की एक अधिकारी अपर्णा रे ने स्थानीय वकील मलिक शाहनवाज के जरिए लाहौर उच्च न्यायलय में एक याचिका दाखिल की है। इस याचिका में सजा पूरी कर चुके इन सभी भारतीयों को रिहा करने की मांग की गई है।  

भाजपा को बड़ा झटका, पूर्व विधायक श्याम सिंह राणा ने थामा INLD का दामन

कोटक बैंक का फेस्टिव ऑफर: मिल रहा अब 7% पर होम लोन

कोरोना महामारी के चलते भारत में सोने की डिमांड घटी, इम्पोर्ट में भारी गिरावट