इस राज्य में नहीं लगेगा कोई लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू, स्वास्थ्य मंत्री ने की घोषणा

कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया में हाहाकार मचा रखा है वही पूरे देश में कोरोना संक्रमण की संख्या रफ़्तार से बढ़ रही हैं। कोरोना के प्रतिदिन डराने वाले केस सामने आ रहे हैं। इसी को देखते हुए दिल्ली, महाराष्ट्र, गुजरात, मध्य प्रदेश तथा पंजाब सहित कई प्रदेशों में लॉकडाउन तथा नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया है। जहां कई प्रदेश सरकारों ने एहतियात के रूप में अपने-अपने प्रदेशों में लॉकडाउन तथा नाइट कर्फ्यू लगा दिया है, वहीं असम में फिलहाल लॉकडाउन और रात के कर्फ्यू के कोई आसार नहीं है।

वही असम के स्वास्थ्य मंत्री तथा भाजपा नेता हिमंत बिस्वा सरमा ने प्रदेश में लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू को लेकर लगाए जा रहे अनुमानों को खारिज कर दिया है। उन्होंने बताया कि असम में फिलहाल लॉकडाउन तथा नाइट कर्फ्यू नहीं लगने वाला है। स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा ने जनता से आग्रह करते हुए कहा, ‘यदि कोरोना के किसी भी प्रकार के लक्षण आपको महसूस होते हैं तो आप अपना कोरोना जांच करवाएं। उन्होंने कहा कि घबराने की बिल्कुल आवश्यकता नहीं है…हां हालांकि हमें सावधानी बरतनी चाहिए’। 

आगे बताते हुए सरमा ने कहा कि हमारा अगले 7 दिनों में कम से कम 1 लाख कोरोना जांच करने का टारगेट है जिससे बिहू धूमधाम से मनाया किया जा सके। उन्होंने कहा कि हम बिहू उत्सव के लिए SOP भी जारी करेंगे। वही इस बीच आज मतलब 8 अप्रैल को असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने गुवाहाटी के मेडिकल कॉलेज तथा हॉस्पिटल में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली। वैक्सीनेशन के साथ ही उन्होंने जनता से वैक्सीन लगवाने का भी आग्रह किया।

आंध्र प्रदेश सरकार ने की नक्सली हमले में मारे गए जवानों के लिए आर्थिक मदद की घोषणा

सस्ते पेट्रोल-डीजल के लिए भारत ने उठाया ये कदम, बढ़ती कीमतों से जल्द मिलेगी राहत

कोरोना वैक्सीन की कमी के कारण इस राज्य में बंद हुए 700 केंद्र

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -