कर्नाटक की स्कूली शिक्षा में होगा बड़ा बदलाव, अहोम-करकोटा राजवंश को जानेंगे बच्चे

कर्नाटक की स्कूली शिक्षा में होगा बड़ा बदलाव, अहोम-करकोटा राजवंश को जानेंगे बच्चे
Share:

बैंगलोर: स्कूल की किताबों में विवादित संदर्भों की पढ़ाई को लेकर कर्नाटक सरकार द्वारा गठित समीक्षा समिति ने टीपू सुल्तान पर अध्याय को बनाए रखने की अनुशंसा तो की है, किन्तु इसके महिमामंडन वाले हिस्से को हटाने की बात कही है। समिति ने मैसूर के वाडियार राजपरिवार, सुरपुर वंश के वेंकटप्पा नायक समेत अन्य शासकों को स्कूल की किताबों में शामिल करने की सिफारिश की है। दूसरी ओर, राज्य के भाजपा MLA एमपी रेणुकाचार्य ने राज्य में मरदसों को बंद कराने की मांग करते हुए कहा कि इनमें राष्ट्र-विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा दिया जाता है।

रोहित चक्रतीर्थ के नेतृत्व वाली स्कूली पाठ्य-पुस्तक समीक्षा समिति ने राज्य सरकार को दी गई अपनी रिपोर्ट में बताया है कि 18वीं शताब्दी के मैसूर शासक टीपू सुल्तान को मैसूर का शेर कहा जाता है। चक्रतीर्थ का कहना है कि ये किसी को भी नहीं पता कि टीपू सुल्तान को यह उपाधि किसने और किस संदर्भ में दी है। भाजपा MLA अपाचू रंजन समेत कई हिंदू संगठनों ने टीपू सुल्तान को लेकर आपत्ति जताई थी। इनका कहना था कि वह एक कट्टर इस्लामिक सुल्तान था, जिसने बड़ी संख्या में हिंदुओं का नरसंहार और उनका धर्मांतरण किया। उसका स्कूली पाठ्यक्रमों में गैर जरुरी रूप से महिमामंडन किया गया है। इसके बाद सरकार इस समिति का गठन किया था।

समिति ने वाडियार राजवंश, उत्तर-पूर्व में 600 सालों तक राज करने वाले अहोम राजवंश और कश्मीर पर 300 वर्षों तक शासन करने वाले करकोटा राजवंश को पाठ्यक्रम में शामिल करने की अनुशंसा की है। इसके साथ ही रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि महर्षि बाल्मिकी के लिए पाठ्यक्रमों में एकवचन का इस्तेमाल किया गया है, जो अपमानजक है। इसको लेकर भाजपा विधायक बसनगौड़ा पाटिल यतनाल ने टीपू सुल्तान, औरंगजेब समेत अन्य मुस्लिम शासकों को ‘कट्टर’ करार देते हुए शनिवार (26 मार्च 2022) को उन्हें पाठ्यक्रमों से पूरी तरह हटाने की माँग की है।

कर्नाटक: हिजाब विवाद के बीच स्कूलों में रखी माँ सरस्वती की मूर्तियों में तोड़फोड़., केस दर्ज

दिल्ली इंटरनेशनल शतरंज में इस खिलाड़ी को हराकर अर्जुन ने की वापसी

झारखंड में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, एनकाउंटर में मार गिराए 3 खूंखार नक्सली

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -