सचिन से ज्यादा टैलेंटेड थे क्रिकेटर कांबली : कपिल देव

पुणे : शनिवार को सक्सेसफुल प्लेयर्स के माता-पिता के ऑनर में पुणे में एक प्रोग्राम आयोजित किया गया था जिसमे कपिल देव ने शिरकत करते हुए सफल क्रिकेटरों के बारे खूब बाते की साथ ही यह भी बताया कि एक स्पोटर्समैन के कॅरियर के लिए गुड फैमिली बैकग्राउंड बहुत मायने रखता है।

जी हां इस बात का जिक्र तब हुआ जब प्रोग्राम में कपिल ने सचिन और विनोद कांबली का इग्जाम्पल दिया। उन्होंने कहा सचिन तेंडुलकर के बचपन के साथी विनोद कांबली मास्टर ब्लास्टर से ज्यादा टैलेंटेड थे। कपिल देव ने दोनों को कॉम्पेयर करते हुए कहा- कांबली ज्यादा प्रतिभावान थे। लेकिन बेहतर सपोर्ट नहीं मिलने के चलते वे ऊंचाई तक नहीं पहुंच सके। 

साथ ही उन्होंने विनोद कांबली की बात करते हुए यह भी कहा कि कांबली का सपोर्ट सिस्टम, तथा 'टैलेंट जरूरी है, लेकिन एक स्पोर्टसपर्सन को उसके फ्रेंड्स, पेरेंट्स, ब्रदर, सिस्टर, स्कूल, कॉलेज का सपोर्ट भी मिलना बेहद जरूरी है।' उनके घर का माहौल और उनका फ्रेंड सर्कल सचिन से बिल्कुल अलग था। जिसके चलते वे टीम इंडिया से पूरी तरह गायब ही हो गए।

साथ ही कपिल ने सभी पेरेंट्स को मेसेज भी दिया कि अपने पैशन को बच्चों पर कभी नहीं थोपना चाहिए। आपको बच्चों को आगे बढ़ने का मौका देना चाहिए। 'बच्चों को वह काम करने के लिए पुश नहीं करें, जो वे नहीं करना चाहते हैं।' बल्कि आपका काम है ' बच्चों को ग्राउंड पर ले जाना, वहां बच्चा क्या करता है और क्या सीखता है, ये उस पर छोड़ दें।' 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -