गुजरात का एक गांव जहाँ कुत्ते हैं करोड़पति

कैसा हो जब कुत्तों के नाम करोड़ो की संपत्ति हो जाये, शायद एक मजाक या फिर किसी फिल्म की स्टोरी हो सकती है. जैसे कि अक्षय कुमार स्टारर फिल्म ' एंटरटेनमेंट' में करोड़ों की सम्पति एक कुत्ते के नाम होती है पर सच में एक ऐसा ही वाकिया देखने मिलता है जहाँ एक गांव में कुत्ते करोड़पति हैं. 

शायद आपको एक बार सुनने में इस खबर पर यकीन नहीं हो, लेकिन ये सच है. गुजरात के मेहसाणा स्थित पंचोट गांव में इन दिनों एक खास तरह के जमींदारों ने लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है. ये जमींदार गांव के कुत्ते हैं, जो करोड़पति हैं. ये कुत्ते गांव में एक ट्रस्ट के नाम से पड़ी जमीन से करोड़ों कमाते हैं. दरअसल पिछले करीब एक दशक से जब से मेहसाणा बाइपास बना है, इस गांव की जमीनों के दाम आसमान छूने लगे हैं और इसका सबसे बड़ा फायदा हुआ है गांव के कुत्तों को.

गांव के एक ट्रस्ट 'मढ़ नी पती कुतरिया ट्रस्ट' के पास 21 बीघा जमीन है. मगर इस जमीन से होने वाली सारी आय इन कुत्तों के नाम कर दी जाती है. बाइपास के पास स्थित इस जमीन की कीमत करीब 3.5 करोड़ रुपये प्रति बीघा है. ट्रस्ट के पास करीब 70 कुत्ते हैं. इस तरह लगभग हर कुत्ते के हिस्से करीब 1-1 करोड़ रुपये आराम से आ जाते हैं.

फसल बुवाई के सीजन से पहले ट्रस्ट के हिस्से के एक प्लॉट की हर साल नीलामी की जाती है. सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले शख्स को एक साल के लिए जुताई का हक दिया जाता है. नीलामी से मिलने वाली रकम करीब 1 लाख के आसपास होती है, जिसे कुत्तों की सेवा में खर्च किया जाता है.

14 साल की उम्र में इस देश में मिल जाता है लाइसेंस

इस देश में ड्राइविंग लाइसेंस पाने के लिए करना पड़ता है यह काम

सिक्को के इस्तेमाल से घर का फ्लोर बना दिया नया

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -