नाइजीरिया में बोको हरम और सरकार के बीच जंग जारी है

मैदुगुरी : नाइजीरिया के मैदुगुरी में संदिग्ध आतंकी हमले में 15 लोगों की मौत हो गई, जबकि 68 अन्य घायल हो गए. घटना की जांच की में लगे अधिकारियाें ने इस हमले के पीछे बोको हरम का हाथ होने की आशंका जताया है.   एजेंसियों के अनुसार यह हमला उस समय हुअा है जब देश की सरकार और इस इस्लामिक संगठन के बीच पिछले एक सप्ताह से वार्ता का दौर चल रहा था. मैदुगुरी पिछले नौ साल से बोको हरम और नाइजीरियाई सरकार के बीच चल रहे संघर्ष का केंद्र बिंदु बना हुआ है. इस दौरान लगभग 20000 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. 

इससे पूर्व राष्ट्रपति मुहम्मदू बुहारी ने कहा था कि देश की सुरक्षा व्यवस्था सुधारना उनकी प्राथमिकता है. उन्होंने कहा था कि देश में इस्लामिक स्टेट की स्थापना करने की कोशिश करने वाला बोको हरम 2016 में दो टुकड़ों में विभाजित हो चुका था अौर हार गया था. सेना के सूत्रों के अनुसार यह आतंकी हमला रविवार रात मैदुगुरी के आंतरिक शहर के किनारे पर सेना के बैरकों के पास स्थित एक बंदरगाह, बैल शवरी में हुआ. स्टेट इमरजेंसी मैनेजमेंट एजेंसी (एसईएमए) के अध्यक्ष बेलो डंबट्टा ने कहा कि हमले में 68 लोग घायल हो गए हैं और 15 निर्दोष लोग मारे गए हैं.

सरकार भी इस हमले को गंभीर मान रही है. उसका कहना है कि यह हमला काफी गंभीर है क्योंकि सरकार पिछले एक सप्ताह से विद्रोहियों के साथ स्थायी युद्धविराम हासिल करने के उद्देश्य से बातचीत कर रही थी. हालांकि सरकार ने यह साफ नहीं किया है कि बोको हराम के किन लोगों के साथ चर्चा चल रही है. यह भी स्पष्ट नहीं हुआ है कि रविवार के हमले में किस गुट का हाथ है. मैदुगुरी के हालत भी कश्मीर जैसे ही है जहा आम अवाम सैन्य कार्यवाही और आतंक के बीच जिंदगी जीने पर मजबूर है.  

रूसी राजदूत की मौत के मामले में गिरफ्तारी का आदेश

'योग' की दिशा में सरकार का बड़ा कदम

पाक में हिन्दू ही नहीं ईसाई भी नहीं है सुरक्षित

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -