पुलिस का सामने आया मार्मिक रूप, बच्ची की मदद कर पहुंचाया अपने घर

इंदौर/ब्यूरो। पुलिस ने मंगलवार को एक  बच्ची को आपने घर पहुंचाया। यह बच्ची परिजनों से बिछड़ कर झाबुआ से इंदौर आ गई थी। इंदौर पुलिस ने  मंगलवार को एक 15 साल की बच्ची की मदद कर बस से घर पहुंचाया। यह बच्ची परिजनों से बिछड़ कर इंदौर आ गई थी। मामला गंगवाल बस स्टेंड इलाके का है। गंगवाल बस स्टैंड पर बनी पुलिस चौकी के पास  दोपहर 14 साल की बच्ची अकेली घूम रही थी।

बच्ची को अकेला देख लोगों ने पुलिस को जानकारी दी। थाना छतरीपुरा के दो जाबाज़ कांस्टेबल सोमलाल भावसार, सत्यम जी ने बच्ची के परिवार को ढूंढने की जिम्मेदारी लेते हुवे बच्चे को बस में बैठा कर सुरक्षित घर पहुंचाया! बच्ची समझदार थी पर बता नहीं पा रही थी कि वह इतनी दूर कैसे पहुंच गई थी और अपने घर से इंदौर कैसे पहुंच गई कुछ नहीं बता पा रही थी। पुलिस भी समझ नहीं पा रही थी कि कैसे बच्ची के माता-पिता तक पहुंचा जाए। 

इसके बाद पुलिस की सूझबूझ से बच्ची के भाई को फोन लगा कर उसे जानकारी दी और पुलिस ने अपने ही पैसे से बच्ची को खाना खिलाया और पानी की बोतल दी साथ ही जिस बस में उसे बिठाया गया उस बस का किराया भी उन्होंने अपने पास से दिया  कई घंटों की मशक्कत के बाद आखिकार बच्ची को सुरक्षित घर  पहुंचाया।

लखीमपुर में दर्दनाक हादसा, बस और ट्रक की भिड़ंत में 8 लोगों की मौत, कई घायल

उपासना सिंह का बड़ा बयान, कहा- "हॉकी ओलंपिक में भारत को पदक..."

किस नदी को चर्मावती के नाम से भी जाना जाता हैं ?

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -