राजस्थान पुलिस की हिरासत में भी मुस्कुराता दिखा अजमेर दरगाह का खादिम, Video

जयपुर: राजस्थान के अजमेर शरीफ दरगाह के सर्किल ऑफिसर (CO) एवं DSP संदीप सारस्वत को लाइन हाजिर कर दिया गया है। अजमेर के पुलिस अधीक्षक ने इस बात की जानकारी दी है। यह कार्रवाई एक वीडियो के वायरल होने के बाद की गई है, जिसमें सारस्वत, भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नुपूर शर्मा की हत्या के लिए उकसाने वाले दरगाह के खादिम सलमान चिश्ती को बचाव का टिप्स देते दिखाई दिए थे। हालाँकि, अजमेर पुलिस का कहना है कि वीडियो में आई आवाज किसकी है, इस बारे में कोई स्पष्ट जवाब नहीं है।

 

बता दें कि यह वीडियो चिश्ती के गिरफ्तारी के समय का है। वीडियो में पुलिस उसे समझाती दिख रही है कि तुम यह कह देना कि नशे में थे, ताकि बच जाओ। हालाँकि, वीडियो वायरल होने के बाद संदीप सारस्वत ने सफाई देते हुए इसे रणनीति का हिस्सा करार दिया था। पूर्व मंत्री और भाजपा नेता वासुदेव देवनानी सहित कई लोगों ने पुलिस की इस कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए थे। वहीं सलमान चिश्ती का राजस्थान पुलिस की हिरासत में एक और वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में अजमेर दरगाह का खादिम सलमान चिश्ती मुस्कुराते हुए और थंब का निशान दिखाते हुए पूरे रुबाब में नज़र आ रहा है, उसके इस अंदाज से ऐसा लगता है कि सलमान चिश्ती को अपनी गलती पर कोई अफ़सोस नहीं है, या फिर उसे सजा व कानून का कोई खौफ नहीं है। मीडिया रिपोर्ट्स में यह वीडियो बुधवार (6 जुलाई, 2022) का बताया जा रहा है, जब उसे जज के घर ले जाया जा रहा था।

 

बता दें कि नुपुर शर्मा को लेकर भड़काऊ वीडियो बनाने और उनकी हत्या के लिए भड़काने के आरोप में अजमेर दरगाह के खादिम सलमान चिश्ती को मंगलवार (5 जुलाई 2022) देर रात अरेस्ट कर लिया गया था। सलमान ने वीडियो में शर्मा का सिर कलम करने वाले को अपना घर इनाम में देने का ऐलान किया था। गिरफ्तारी के बाद उसे एक स्थानीय कोर्ट में पेश किया गया। मजिस्ट्रेट की इस अदालत ने उसे दो दिन की पुलिस हिरासत पर भेज दिया है।

'वह मेरी निजी राय..', महुआ मोइत्रा का समर्थन करने के बाद थरूर ने दी सफाई

'लोगों को लूटने में मदद करता है संविधान..', कहने वाले केरल के मंत्री पर FIR

'हमने वर्षों से जारी हिन्दुओं के धर्मान्तरण पर लगाई लगाम..', सरकार के 100 दिन पर बोले CM सावंत

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -