रिस्तों की अहमियत

रिस्तों की अहमियत

 सभी का सम्मान करें. सास के मायके वालो का सम्मान करें क्योंकि ऐसी बहु सभी सासो को बहुत पसंद आती है. सासु माँ के साथ उनके बारे में समय-समय पर बात करते रहना चाहिए.. एक बात याद रखे.

 अपनी सास से कभी भी कटी-कटी न रहें. उनका सम्मान करे और समय-समय पर उनके साथ बातचीत करते रहे. . अच्छा खाना खिलाने से आप पुरूषों का ही नहीं बल्कि सासु जी का भी दिल जीत सकती है.

जब भी खाना बनाये अपनी सासु से जरूर पूछे या उनकी पसंद का खाना बनाएं.आलस्य बिल्कुल न दिखाएं क्योंकि आलस्य बहु सासों को बिल्कुल पसंद नहीं आती है. उनके सामने हमेशा एक्टिव रहें.