18 मई सुबह की बड़ी ख़बरें

नई दिल्ली: कर्नाटक में राज्यपाल के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस द्वारा याचिका लगाई गई है जिस पर शुक्रवार सुबह साढ़े 10 बजे सुनवाई होगी. इससे पहले येदियुरप्पा को शपथ लेने से रोकने के लिए कांग्रेस और जेडीएस द्वारा बुधवार रात सुप्रीम कोर्ट में लगाई गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने येदियुरप्पा को सीएम पद की शपथ लेने से रोकने से इंकार कर दिया था.

इबादत के माहे रमज़ान का आज दूसरा दिन किसी नेमत से कम नहीं है, क्योकि आज जुम्मा है. जुम्मे की नमाज का अपना की सवाब है जिसे हर मुस्लिम जानता है. देश और दुनियाभर का मुस्लिम समुदाय रमज़ान के दौरान रोज़े रखते हुए खुदा से खैरियत की दुआ करता है. सुबह, दोपहर, शाम, पांच वक़्त की नमाज़ें अता की जा रही है. अजान की आवाज से सुबह की शरुआत और रोज़े और इबादत में दिन का गुजरना इस पाक महीनेभर चलने वाला मजहबी दस्तूर है.

दिल्ली:लोकतंत्र की हत्या के कांग्रेस के आरोपों पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने जवाबी हमला करते हुए कहा कि लोकतंत्र की हत्या तो तब हुई थी, जब हार से हताश कांग्रेस ने कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए जेडीएस को समर्थन देने का 'अवसरवादी' फैसला लिया था. उन्होंने उम्मीद जताई कि मुख्यमंत्री येद्दयुरप्पा कर्नाटक की जनता की आकांक्षाओं पर खरा उतरेंगे.

कर्नाटक चुनाव में चल रही राजनीतिक उठापटक के बीच अब शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने केंद्र की बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि अब भारत को लोकतान्त्रिक देश कहना बंद कर देना चाहिए. बीजेपी को दिल्ली में बैठकर सीधे ही राज्यों के मुख्यमंत्री घोषित कर देने चाहिए, जैसे राज्यपाल को सीधा सदन भेजते है.

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के 26/11 के मुंबई हमले में पाक का हाथ होने के कुबूलनामे के बाद पाकिस्तान की सियासत में बवाल मच गया है और अब इसी क्रम में मुस्लिम लीग के वरिष्ठ नेता मखदूम जावेद हाशमी ने भी नवाज की बात पर  सहमति जताते हुए अपने मुल्क में फौज की साजिश का खुलासा करते हुए बड़ा बयान दिया है. पाकिस्तान सरकार में 3 बार मंत्री रहे और देश के वरिष्ठतम नेताओं में शुमार हाशमी ने कहा कि पाकिस्तानी फौज हमेशा से चुनी हुई सरकारों को गिराती रही है. फौज पर आरोप लगाते हुए जावेद हाशमी ने कहा, 'मैं इस बात का गवाह हूं कि पिछले 5 साल से फौज नवाज शरीफ की सरकार को गिराने की कोशिश कर रही है.'

गंभीर ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा, ‘कल्पना करो कि वीरेंद्र सहवाग, सचिन तेंदुलकर, वीवीएस लक्ष्मण खेल रहे हों और केवल 1000 दर्शक मौजूद हों.’ वही ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह को लगता है कि टेस्ट क्रिकेट दूसरी श्रेणी के शहरों में आयोजित किया जाना चाहिए लेकिन गंभीर को यह समाधान नहीं लगता.गंभीर का मानना है कि टेस्ट मैचों से पहले सीमित ओवरों के मैच खेलने से थोड़ी मदद मिल सकती है.

किसानों ने चक्काजाम किया

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने स्वच्छता के लिए इंदौर की तारीफ की

World Environment Day: प्रदूषित पर्यावरण से हो रहा है ये असर

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -