लड़की ने मां के साथ मिलकर उठाया ऐसा कदम, कोचिंग को सिखाया सबक

मुंबई : जहां लाखो बच्चे कम नंबर आने पर कुछ गलत कदम उठा लेते है वही मुंबई में रहने वाली माँ बेटी ने कुछ अलग कर दिखाया. मामला ये है की अंधेरी में बने एक कोचिंग इ‍ंस्टिट्यूट ने छात्रों को परीक्षा में अच्छे नतीजों का वादा किया था। 

परन्तु 2013 में 12 वीं की परीक्षा की तैयारी कर रही इस लड़की के साथ कुछ उल्‍टा ही हो गया. नतीजे खराब आने से नाराज इस लड़की ने कोचिंग पर केस कर दिया और कन्‍ज्‍युमर कोर्ट ने इस बारे में फैसला सुनाते हुए उस इंस्टिट्यूट को पीड़िता को 3.55 लाख रुपए का मुआवजा देने को कहा है.

कन्‍ज्‍युमर कोर्ट में छात्र ने बताया की वो साइंस की छात्रा थी और कोचिंग के वादे पर भरोसा कर मैथ्‍स और कैमिस्‍ट्री की क्‍लास के लिए टीचर लगाया. जो उसे सही तरीके से नहीं पड़ा पाए कई टीचर्स बदलने के बाद भी वो छात्रा को सन्तुष्ट नहीं कर पाए और जब नतीजे आए तो छात्रा को को 83 प्रतिशत अंक मिले. लेकिन फिजिक्‍स, कैमिस्‍ट्री औ मैथ्‍स में उसे 60 प्रतिशत से भी कम नंबर मिले। फिर केस लगने के बाद कोर्ट के आदेशनुसार छात्रा को 54 हजार रुपये फीस के अलावा 3 लाख रुपये मुआवजे के तौर पर उस कोचिंग से मिले.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -