बच्चे की चाहत में दंपती ने दी कॉलगर्ल की बलि, गिरफ्तार

ग्वालियर: मध्य प्रदेश के ग्वालियर से एक बड़ी खबर आई है। जी दरअसल यहाँ कुछ ऐसा हुआ है कि जानने के बाद सभी के होश उड़ गए। यह मामला शरद पुर्णिमा के दिन का है जब यहाँ एक हत्या हुई। बताया जा रहा है शरद पुर्णिमा की रात यहाँ आरती मिश्रा नाम की लड़की की हत्या कर दी गई। अब इस हत्याकांड की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। मिली जानकारी के तहत आरती पेशे से कॉलगर्ल थी और आरती की हत्या एक निसंतान दंपती ने कर दी थी। पुलिस का कहना है आरोपी पति बेटू भदौरिया और आरोपी ममता भदौरिया को शादी के 18 साल बाद भी बच्चे नहीं थे और दोनों ने काफी इलाज कराया लेकिन बच्चे नहीं हुए।

ऐसे में दंपत्ति तांत्रिक गिरवर यादव के पास पहुंचे और तांत्रिक ने ही दंपत्ति को कुछ ऐसा कहा कि उनके होश उड़ गए। जी दरअसल तांत्रिक ने उन्हें पूर्णिमा की रात किसी इंसान की बलि देने के लिए कहा और कहा कि इससे बच्चा हो जाएगा। यह सब जानने के बाद दंपत्ति ने बच्चे की लालच में यह सब कर दिया। जी दरअसल आरोपी ममता ने अपनी ननद मीरा राजावत और उसके लिव इन पार्टनर नीरज परमार को इस बारे में बताया। उसके बाद कॉलगर्ल आरती को 10 हजार रुपए का लालच देकर बुलाया गया और फिर चारों ने मिलकर घर की छत पर आरती की गला घोंटकर हत्या कर दी। वहीं इसके बाद ननद मीरा अपने प्रेमी नीरज के साथ आरती की लाश को बाइक पर बैठाकर तांत्रिक गिरवर के घर ले जा रहे थे, हालाँकि ट्रिपल आईटीएम कॉलेज के पास लाश गिर गई।

उसी बीच सड़क से गुजर रहे लोगों को देख दोनों लाश को वहीं छोड़ भाग निकले। इस मामले के बारे में पुलिस को पता चला तो पुलिस ने जांच शुरू की और 36 घंटे में मामले को सुलझा लिया। अब हजीरा पुलिस ने हत्या करने वाले आरोपी ममता भदौरिया, पति बेटू भदौरिया, मीरा राजावत और उसके लिव इन पार्टनर नीरज परमार को गिरफ्तार कर लिया है। इसी के साथ तांत्रिक गिरवर यादव को भी पुलिस ने हजीरा में उसके घर से गिरफ्तार कर लिया है।

महांकाल मंदिर परिसर में 'OMG 2' की शूटिंग के दौरान जूते में नजर आई पूरी यूनिट

त्योहारी सीजन में लॉन्च की जाएगी TVS Radeon, जानिए क्या है खासियत

CBI ने दर्ज किया इंदौर की कंपनी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला

Most Popular

- Sponsored Advert -