दिनेश शर्मा ने अध्यक्ष पद के लिए किया इस शख्स का समर्थन

Jul 04 2020 03:56 PM
दिनेश शर्मा ने अध्यक्ष पद के लिए किया इस शख्स का समर्थन

पूर्व केंद्रीय मंत्री और दिवंगत भाजपा नेता अरुण जेटली के पुत्र रोहन को दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) का अध्यक्ष बनाने के लिए सचिव विनोद तिहारा का गुट आगे आया है। वही दिल्ली हाईकोर्ट के छह पदों पर उपचुनाव के आदेश के बाद दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में चुनावी सरगर्मी बढ़ गई थीं। इसके बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) के पूर्व अध्यक्ष और डीडीसीए के पूर्व उपाध्यक्ष सीके खन्ना गुट ने वर्तमान सचिव विनोद तिहारा से हाथ मिला लिया था। वही दोनों गुटों ने एक साथ मिलकर चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी भी कर ली थी। बता दे, की सीके खन्ना की पत्नी शशि खन्ना अध्यक्ष पद की प्रबल उम्मीदवार थीं लेकिन डीडीसीए के पूर्व अध्यक्ष और बीसीसीआइ के पूर्व उपाध्यक्ष अरुण जेटली के पुत्र रोहन के इच्छा जताने के बाद मामला बदल गया है।डीडीसीए के वर्तमान सचिव विनोद तिहारा, पूर्व अध्यक्ष एसपी बंसल और पूर्व संयुक्त सचिव दिनेश शर्मा ने शुक्रवार को रोहन से उनके घर में मुलाकात की और इसके साथ-साथ अध्यक्ष पद के लिए उनका समर्थन भी किया है।

सभी सूत्रों के अनुसार सीके खन्ना भी शनिवार को रोहन से मिल सकते हैं।दिनेश शर्मा ने अपने बयान में कहा, कि हमने रोहन का अध्यक्ष पद के लिए समर्थन किया है। और हम चाहते हैं कि अरुण जेटली स्टेडियम को विश्व स्तरीय बनाने के लिए रोहन आगे आएं। लेकिन जरुरी है की हम सब लोग एकजुट होकर उन्हें निर्विरोध निर्वाचित करने में उनकी सहायता करें। इससे आपस के लड़ाई झगड़े बंद हो जाएंगे और दिल्ली क्रिकेट सही दिशा में आगे बढ़े। सीके खन्ना भी डीडीसीए के वरिष्ठ सदस्य हैं और उन्हें भी पूरा मान-सम्मान मिलना चाहिए। जब सीके खन्ना से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा कि मेरी बैठक प्रस्तावित है लेकिन अभी समय तय नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि अभी इस मामले में, मैं किसी तरह की कोई टिप्पणी नहीं करूंगा।

17 जून को दिल्ली हाईकोर्ट ने यह भी आदेश दिया था कि डीडीसीए छह सप्ताह के अंदर रिक्त छह पदों पर उपचुनाव पूर्ण करवाए। पिछले साल नवंबर में वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा के इस्तीफे के बाद से अध्यक्ष का पद खाली है। वही डीडीसीए के लोकपाल ने दिल्ली के विधायक ओमप्रकाश शर्मा को भी अयोग्य घोषित कर दिया था जिससे यह पद भी खाली हो गया था। कंपनी एक्ट के मुताबिक चार निदेशकों के भी चुनाव होने हैं। उपाध्यक्ष राकेश बंसल कार्यकारी अध्यक्ष का भार संभाल रहे हैं। डीडीसीए में 4280 सदस्य हैं। पिछले चुनाव में विजेता और उपविजेता रहने वाले इन दोनों ग्रुपों के एक साथ आने से स्थितियां काफी मजबूत होंगी। मंजीत सिंह ने कहा कि चुनाव की तिथि सुनिश्चित होते ही उम्मीदवारों की घोषणा कर दी जाएगी। परन्तु इस पर निश्चित रूप से किसी तरह का कोई फैसला नहीं लिया गया है.

लद्दाख पहुंचकर पीएम मोदी ने की थी सिंधु पूजा, सामने आया Video

अमेरिकी सीनेटर बोले- चीन सोचा है, जब भारत-US कमज़ोर होंगे, तो ही वह पॉवरफुल होगा

राहुल गाँधी बोले- चीन की घुसपैठ पर आगाह कर रहे लद्दाखी, उन्हें नज़रअन्दाज़ किया तो पड़ेगा भारी