लाल दुपट्टा बांध कर भारत पहुंचने के संकेत देते थे आतंकी

By Kapil Mali
Sep 10 2015 11:28 AM
लाल दुपट्टा बांध कर भारत पहुंचने के संकेत देते थे आतंकी

नई दिल्ली : पिछले दिनों उधमपुर में बीएसएफ काफिले पर हुए आतंकी हमले में आतंकवादियों की मदद करने के आरोप में पकडे गए शौकत अहमद भट ने पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में कई खुलासे किए. शौकत ने पुलिस पूछताछ में बताया कि लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी भारत पहुंचने के बाद पहले से तय पेड़ पर लाल दुपट्टा बांध देते थे. शौकत के अनुसार यह तयशुदा जगह पर पहुंचने का एक संकेत होता है. इसके बाद आतंकी इंतजार करते थे जब तक कि कोई उसी पेड़ पर हरा दुपट्टा न बांध दे. शौकत ने पॉलीग्राफ़ टेस्ट में बताया कि लाल दुपट्टा इस बात का संकेत होता है कि आतंकी भारत में आ चुके है, वहीँ हरा दुपट्टा इस बात का संकेत होता है कि उनसे मिलने वाला दल वहां आ चुका है.

कौन है शौकत?

NIA का मानना है कि भट्ट ही उधमपुर हमले के आरोपी नावेद और 3 अन्य लोगों को सीमा से पुलवामा स्थित छिपने के ठिकाने तक लाया था. जांच एजेंसी ने बताया कि पूछताछ के दौरान नावेद ने भट्ट की भूमिका का खुलासा किया था. भट्ट को पहली सितंबर को गिरफ्तार किया था. नावेद ने पूछताछ में बताया था कि भट्ट लश्कर-ए- तैयबा द्वारा भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश में शामिल था. नावेद ने अपनी अर्जी में कहा कि पाकिस्तान और जम्मू एवं कश्मीर के अलग-अलग हिस्सों में सक्रिय लश्कर के लोगों द्वारा रची जा रही साजिशों की जानकारी भट्ट के पास है.