JKLF का आतंकवादी जावेद मीर गिरफ्तार, 1990 में की थी वायुसेना के अफसरों की हत्या

Oct 18 2019 04:43 PM
JKLF का आतंकवादी जावेद मीर गिरफ्तार, 1990 में की थी वायुसेना के अफसरों की हत्या

नई दिल्‍ली: 1990 में इंडियन एयरफोर्स के अफसरों की हत्‍या के आरोपी आतंकी जावेद मीर उर्फ नलका को गिरफ्तार कर लिया गया है. उसको 23 अक्‍टूबर को अदालत में पेश किया जाएगा. नलका उन शुरुआती आतंकियों में शामिल है जिसको पाक अधिकृत कश्‍मीर (PoK) में हथियार चलाने का प्रशिक्षण मिला था. जावेद मीर अलगाववादी नेता यासीन मलिक का करीबी बताया जाता है.

गौरतलब है कि यासीन मलिक और उसके साथियों पर 25 जनवरी 1990 को कश्मीर के सनत नगर इलाके में 4 वायुसेना अधिकारियों की गोलियां मारकर हत्या और 22 लोगों को घायल करने के आरोप लगे थे. सीबीआई ने अगस्त 1990 में मलिक और उसके साथियों के खिलाफ जम्मू की टाडा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी, जिसकी सुनवाई पर जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय की सिंगल बेंच ने 1995 में इस ग्राउंड पर रोक लगाई थी कि चूंकि घाटी में टाडा अदालत नहीं है, इसलिए इस मामले की सुनवाई जम्मू में नहीं हो सकती.

तीस वर्ष के बाद हालिया महीनों में अब मामले की सुनवाई करने की अनुमति मिली है. यासीन मलिक फिलहाल टेरर फंडिंग के मामले में NIA की हिरासत में तिहाड़ जेल में कैद है. मलिक को 11 सितंबर को जम्मू की टाडा अदालत में प्रस्तुत करने की हिदायत अदालत ने सीबीआई के वकील को दी थी. उसके बाद हत्या के मामले में जम्मू में टाडा कोर्ट ने मंगलवार को अलगाववादी नेता यासीन मलिक के खिलाफ सुनवाई 23 अक्टूबर तक टाल दी है. अदालत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मलिक को कोर्ट के सामने पेश करने की इजाजत दी है.

न्यू जर्सी इंडियन एंड इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में दिखाई जाएगी विक्रम भट्ट की 'घोस्ट'

एयर इंडिया को बड़ी राहत, इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने टाला अपना फैसला

दिवाली से पहले सरकार का बड़ा तोहफा, EPFO कर्मचारियों को मिलेगा 60 दिन का बोनस