पूछताछ में आतंकी अब्दुल अजीज ने अपने बारे में किए कई खुलासे

लखनऊ : सऊदी अरब से प्रत्यर्पित कर भारत लाया गया आतंकी अब्दुल अजीज उर्फ गिद्दा लश्कर-ए-तैयबा के संपर्क में आकर आतंकी बना। संगठन से जुड़ने के बाद उसे आतंकी बनने की प्रेरणा मिली। इसके बाद वह आतंकी बन गया। इस आतंकी का नाम अब्दुल अजीज उर्फ गिद्दा कई युद्ध लड़ रहा है। हालांकि इस आतंकी को हैदराबाद पुलिस ने अपने अधीन लिया। इस आतंकी ने विदेशों में भी आतंक की लड़ाईयां लड़ी हैं। मिली जानकारी के अनुसार अब्दुल अजीज से लखनऊ में अधिकारियों ने पूछताछ की।

इस दौरान आतंकी अब्दुल अजीज ने बताया कि जिहाद के अंतर्गत लड़ाई लड़ने हेतु वह चेचेन्या व बोस्निया भी पहुंचा। इस आतंकी ने विभिन्न तरह की लड़ाईयां लड़ीं। उसके द्वारा यह भी कहा गया कि यह लड़ाई ईराक में चल रही थी। हैदराबाद पुलिस द्वारा आतंकी अजीज के विरूद्ध फर्जी पासपोर्ट तेयार करवाने का भी प्रकरण दर्ज किया गया। 

अजीज ने अधिकारियों से कहा कि वे मूलरूप से हैदराबाद का निवासी था। उसके पिता मेहताब अली पुलिस में सिपाही थे। मगर अब्दुल ने आतंक का रास्ता चुना। लश्कर-ए-तैयबा से जुड़ने के बाद उसके विचारों में बदलाव आया। वह आतंक और जिहाद की ओर मुड़ने लगा। जिहाद का रास्ता उसे अच्छा लगा और वह आतंकी वारदातों में शामिल होता रहा। अब्दुल अजीज भारत के मोस्ट वांटेड आतंकियों में से एक है। माना जा रहा है कि आतंकी को पकड़े जाने के बाद हाफिज सईद और अन्य आतंकियों को लेकर भारत अहम जानकारी प्राप्त कर सकता है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -