बाघ के पगमार्क मिलने से रहवासी क्षेत्र में दहशत

Dec 08 2018 09:21 AM
बाघ के पगमार्क मिलने से रहवासी क्षेत्र में दहशत

बैतूल: सारणी क्षेत्र में सात दिनों से टाइगर की मौजूदगी के चलते लोगों में दहशत कम नहीं हो पा रही है। जानकारी के अनुसार बता दें कि शुक्रवार को राखड़ बांध के पास धसेड़ रोड पर और पॉवर हाउस के सामने नाले में टाइगर के पगमार्क मिले हैं।

शीतकालीन सत्र: कामकाज की सुगमता के लिए सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक

यहां बता दें कि शुक्रवार को सुबह करीब 7.30 बजे वन विभाग की टीम को राखड़ बांध के पास टाइगर के होने की सूचना मिली। वहीं बता दें कि इस पर वन अमला मौके पर पहुंचा तो लाल चौकी से धसेड़ जाने वाले रोड पर पगमार्क मिले। वहीं पॉवर हाउस के सामने नाले के किनारे भी बाघ के पगमार्क मिले हैं, यहां तलाशी के दौरान लोग उमड़ पड़े। हालांकि, बाघ कहीं नजर नहीं आया।

कहां से आती है वोट देने के बाद लगाई जाने वाली स्याही? आप भी जान लीजिये

गौरतलब है कि सारणी के वार्ड 12 के पार्षद नागेंद्र निगम ने विभाग को सूचना दी कि ट्रिपल स्टोरी कॉलोनी माता मंदिर के पीछे उन्हें टाइगर नजर आया है। इस पर विभाग की टीम वहां भी पहुंची, लेकिन वहां पगमार्क नहीं मिल पाए। इसके अलावा धरचोपना क्षेत्र के ग्राम पूंजी में भी शुक्रवार को कुछ ग्रामीणों ने टाइगर होने की सूचना वन विभाग की टीम को दी। यहां पर टाइगर तो दिखाई नहीं दिया, लेकिन पगमार्क जरूर मिले हैं। हालांकि, ये पगमार्क टाइगर के हैं या लक्कड़बग्घा के, यह स्पष्ट नहीं हो पाया है।

खबरें और भी

सोनिया गाँधी के दामाद वाड्रा के तीन ठिकानों पर ईडी का छापा

रावी नदी पर बांध बनाने के मोदी सरकार ने दी हरी झंडी

सर्दियों में बढ़ सकती है अस्‍थमा के रोगियों की संख्या, रखें कुछ बातों का ध्यान