प्रतिबंधों के बाद भी किमजोंग जारी रखेंगे अमेरिकी विरोधी अभियान

पेंगयोंग। उत्तर कोरिया में मिसाइल परीक्षण किए जाने के बाद, स्थिति काफी तनावपूर्ण हो गई है। इस मामले में सरकारी मीडिया द्वारा कहा गया कि, किम जोंग उन ने अमेरिका के विरूद्ध, निर्णायक जीत की बात की है। यही नहीं उत्तर कोरिया द्वारा, मिसाईलों के परीक्षण किए जाने को लेकर, अमेरिका ने अपनी आपत्ती ली है। समूचा अमेरिका इसकी जद में आ सकता है इस तरह के दावे तक किए गए। अब इस मामले में कहा गया है कि, उत्तर कोरिया जिस तरह से हथियारों के निर्माण, परीक्षण और संग्रहण को बढ़ाने में लगा है उस तरह से तो वैश्विक स्तर पर काफी परेशानी का सामना सभी को करना पड़ गया।

समाचार एजेंसी केसीएनए से मिली जानकारी के अनुसार, किम द्वारा  देश के मौजूदा परमाणु परीक्षण की जानकारी दी गई।  विश्व में परमाणु व सैन्य शक्ति के तौर पर छलांग लगाई गई है। गौरतलब है कि, दक्षिण कोरिया के रक्षामंत्रालय ने इस मामले में जानकारी देते हुए कहा कि, मिसाइल 13 हजार किलोमीटर तक के लक्ष्य पर हमला करने में समर्थ है।

ऐसे में वे देश जिनकी सीमा उत्तर कोरिया से सटी है उन्हें लेकर तनाव बढ़ने लगा है। गौरतलब है कि, उत्तर कोरिया द्वारा मिसाईल परीक्षण किए जाने के बाद, यूएन ने उस पर प्रतिबंध लगा दिया था। नाॅर्थ कोरिया को की जाने वाली कोयले की आपूर्ति को सीमित किए जाने की जानकारी दी गई थी। कहा गया था कि, उत्तर कोरिया की कोयले की आपूर्ति को और अन्य व्यापारिक गतिविधियों को सीमित किया जाएगा। इस मामले में 15 देशों ने प्रतिबंध का समर्थन किया था।

मिसाइल का बदला, मिसाइल

नॉर्थ कोरिया- सैनिक के भागने पर गोलियां मारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -