दुनिया के 10 देशों में चल रहा 'कोरोना' जैसा वायरस फ़ैलाने वाला 'मीट मार्केट'

वाशिंगटन: कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में हाहाकार मचा दिया है. चीन से फैलना शुरू हुआ यह वायरस इस समय पूरी दुनिया को चपेट में ले चुका है. यह वायरस जानवरों से मनुष्यों में फैला है. यह किन-किन जानवरों में पाया गया है, पूरी दुनिया के वैज्ञानिक तरह तरह की बातें बता रहे हैं, इनमें चमगादड़ मुख्य रूप से बताया जा रहा है.

दरअसल, चमगादड़ जैसे दुर्लभ जानवरों के मीट से ही कोरोना वायरस पूरे विश्व में फैला है. इसके बाद भी विश्व में तकरीबन दस देश ऐसे हैं जहां अभी भी वेट मार्केट धड़ल्ले से चल रहे हैं. चीन के साथ ही थाइलैंड, वियतनाम, कंबोडिया, मलेशिया, इंडोनेशिया, ताइवान, हॉन्ग कॉन्ग, सिंगापुर, साउथ कोरिया और जापान में ऐसे बाजार हैं. यूएन की रिपोर्ट के मुताबिक, इन जंगली जानवरों का वार्षिक कारोबार 2016 में 1.4 लाख करोड़ रुपये का था, जो 2018 में 7 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गया था.

यदि चीन कि बात करें तो चीन में गुआंगडौंग वेट मार्केट वो स्थान है, जहां अजगर, कछुए, गिरगिट, चूहे, चीते के बच्चे, चमगादड़, पैंगोलिन, लोमड़ी के बच्चे, जंगली बिल्ली, मगरमच्छ जैसे जानवरों का गोश्त बिकता है.  चीन के इसी बाजार से 2002 में सार्स फैला था. इस सार्स कि वजह से 26 देशों के 8,000 लोग संक्रमित हो गए थे. ये कोरोना वायरस का पहला अटैक था. इसके बाद चीन ने कुछ दिन के लिए यह बाजार बंद कर दिया था. किन्तु कुछ ही दिनों बाद इसे फिर खोल दिया था. 

WHO पर भड़के डोनाल्ड ट्रम्प, कहा- 'कोरोना वायरस के मुद्दे पर चीन का बहुत ज्‍यादा पक्ष लिया '

कोरोना संकट के बीच असांजे की जमानत हुई रद्द

बगदाद में फिर हुआ रॉकेट हमला, इराकी सेना ने किया दावा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -