तेलंगाना में केशव राव का दुखद निधन, पूरे राजकीय सम्मान के साथ होगा अंतिम संस्कार

हैदराबाद: तेलंगाना हाई कोर्ट के एक पीठासीन न्यायाधीश का सोमवार तड़के यहां एक प्राइवेट अस्पताल में निधन हो गया है। अधिकारियों और सूत्रों ने जानकारी दी है कि जस्टिस पी केशव राव (60) को एक सप्ताह पहले अस्पताल में एडमिट कराया गया था और उनका ब्रेन ट्यूमर और अन्य बीमारियों का उपचार चल रहा था। उनके परिवार में पत्नी और दो बेटे हैं।

मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव ने जस्टिस केशव राव के निधन पर शोक जताया है। सीएम KCR ने जस्टिस केशव राव द्वारा एक न्यायाधीश के रूप में गरीबों को दी गई कानूनी सेवाओं को याद किया। राव ने शोक संतप्त परिवार के सदस्यों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की। सीएम KCR ने अधिकारियों को पूरे राजकीय सम्मान के साथ जस्टिस केशव राव का अंतिम संस्कार करने के निर्देश दिए।

जस्टिस केशव राव के सम्मान में तेलंगाना में हाई कोर्ट और अधीनस्थ अदालतों में सोमवार को कामकाज स्थगित कर दिया गया। जस्टिस केशव राव ने 1986 में काकतीय विश्वविद्यालय से कानून की डिग्री प्राप्त की और अप्रैल 1986 में बार काउंसिल ऑफ आंध्र प्रदेश में शामिल हुए। उन्होंने एक सरकारी वकील के रूप में अविभाजित आंध्र प्रदेश का प्रतिनिधित्व किया। मार्च 2010 में, उन्हें CBI का विशेष लोक अभियोजक नियुक्त किया गया और वह अप्रैल 2016 तक इस पद पर बने रहे।

कोरोना MP को कैसे नुकसान पहुंचा सकता है, यहाँ विष्णु और शिव हैं: राष्ट्रीय सचिव तरुण चुग

संयुक्त राज्य अमेरिका ने जीते सबसे ज्यादा गोल्ड मैडल

'प्लास्टिक से बने तिरंगे के इस्तेमाल पर लगे रोक..', 15 अगस्त के पहले राज्यों को केंद्र सरकार का आदेश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -