ये राज्य काटेगा अपने कर्मचारियों का 50 फीसद वेतन, सीएम ने किया ऐलान

May 29 2020 02:02 PM
ये राज्य काटेगा अपने कर्मचारियों का 50 फीसद वेतन, सीएम ने किया ऐलान

हैदराबाद: देशव्यापी लॉकडाउन के कारण नकदी-तंगी की वजह से तेलंगाना सरकार ने मई में भी अपने कर्मचारियों की वेतन में 50 फीसदी कटौती जारी रखने का निर्णय लिया है. लॉकडाउन से सभी राज्य सरकारों के राजस्व को काफी नुकसान हुआ है. तेलंगाना के सीएम के. चंद्रशेखर राव ने कहा "अगर कर्मचारियों के वेतन और पेंशन का भुगतान किया जाता है, तो खर्च 3,000 करोड़ से ज्यादा होगा, इससे पूरा खजाना खाली हो जाएगा फिर न कोई भी भुगतान नहीं किया जा सकता है और न ही कोई कार्य किया जा सकता है. इसलिए हमें एक सही रणनीति अपनानी होगी.“

तेलंगाना सरकार सार्वजनिक प्रतिनिधियों के वेतन में 75 प्रतिशत वेतन, ऑल इंडिया सर्विस ऑफिसर्स 60 प्रतिशत, राज्य सरकार के कर्मचारियों का 50 प्रतिशत और मई के लिए 25 प्रतिशत पेंशन में काटेगी. आउटसोर्सिंग और संविदा कर्मियों के लिए 10 फीसदी की सैलरी कटौती होगी. सरकार ने गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को 1,500 नकद का भुगतान नहीं करने का भी निर्णय लिया है.

सीएम कार्यालय के एक बयान में कहा गया है कि लॉकडाउन में छूट को देखते हुए मजदूरों और श्रमिकों को दैनिक काम मिलेगा, मई से नकद मदद प्रदान नहीं की जाएगी. हालांकि 12 किलोग्राम फ्री चावल की आपूर्ति मई में जारी रहेगी. सरकार ने बगैर किसी बदलाव के सामाजिक सुरक्षा पेंशन का भुगतान करने का भी निर्णय लिया है. राज्य के सीएम के चंद्र शेखर राव ने कहा कि राज्य को प्रतिमाह 12,000 करोड़ की आय प्राप्त होनी चाहिए लेकिन यह लॉकडाउन के चलते बंद हो गई है.

 लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने नियुक्त किए परिसीमन सदस्य

इस पड़ोसी मुल्क को कोरोना संकट में भारत से भेजे गए कृषि उत्पाद

टिड्डियों के भारत पर हमले के बाद पाकिस्तान ने किया ऐसा काम