वैक्सीन वितरण पर निगरानी रखने के लिए तेलंगाना सरकार कर रही है अग्रिम प्रौद्योगिकी का उपयोग

वैक्सीन वितरण पर निगरानी बनाए रखने के लिए तेलंगाना सरकार अग्रिम प्रौद्योगिकी का उपयोग कर रही है। बता दे कि तेलंगाना सरकार को नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने दृश्य लाइन के भीतर प्रयोगात्मक टीका वितरण के लिए ड्रोन का उपयोग करने की अनुमति शुक्रवार को दी थी। हम यहां साझा करते हैं कि मंत्रालय का बयान यह नहीं बताता है कि इस परीक्षण के वितरण में किस वैक्सीन का उपयोग किया जाएगा। 

मंत्रालय ने ट्विटर पर घोषणा की कि तेलंगाना सरकार को मानव रहित विमान प्रणाली (यूएएस) नियम, 2021 से "दृष्टि श्रेणी के दृश्य रेखा के भीतर ड्रोन का उपयोग कर टीकों की प्रायोगिक डिलीवरी करने" के लिए सशर्त छूट दी गई है। यह छूट दस्तावेज़ के अनुसार एक वर्ष तक या अगले आदेश जारी होने तक लागू रहेगी। 

हालांकि, यहां यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि तेलंगाना सरकार ने 9 मार्च 2021 को टीकों की डिलीवरी के लिए मानव रहित विमान प्रणाली (यूएएस) नियम, 2021 से छूट मांगी थी, जबकि @DGCAIndia ने 26 अप्रैल 2021 को मंजूरी दी थी।

कोरोना मरीजों को मुफ्त ऑक्सीजन दे रहा पटना का महावीर मंदिर, ऐसे करें सम्पर्क

कोरोना पर 300 वैज्ञानिकों का पीएम मोदी को खुला खत, कहा- अगर वक़्त रहते जरुरी कदम नहीं उठाए...

यूपी में बढ़ रहा जुर्म का सिलसिला, ज्वेलरी शॉप में लूट के दौरान बदमाशों ने की गोलीबारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -