लालू से मिलने के बाद एक्शन में तेजप्रताप, संडे को पहुंचे राजद कार्यालय, लगाया दरबार

पटना: राजद सुप्रीमो और बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद से मुलाकात के बाद अचानक उनके बड़े बेटे तेजप्रताप यादव पार्टी में सक्रीय हो गए है. जब दफ्तर में आज रविवार को कोई नहीं रहता है तभी भी तेजप्रताप आरजेडी कार्यालय पहुंचे और अपना दरबार लगाया है. वह राजद नेताओं को बताना चाहते हैं कि कोई उनको कोई नज़रअन्दाज़ नहीं कर सकता है.

तेजप्रताप छुट्टी के दिन भी पार्टी कार्यालय पहुंचकर अपने लोगों से मिल रहे हैं. रविवार के दिन राज्य का राजद दफ्तर बंद रहता है, पार्टी का कोई बड़ा नेता कार्यालय नहीं पहुंचता है. किन्तु रांची से पटना वापस आने के बाद तेज प्रताप रविवार को ही पार्टी कार्यालय पहुंच गए हैं और अभी अपने समर्थकों से मुलाकात कर रहे हैं. पार्टी के बाहर टिकट को लेकर बायोडाटा लेकर कई लोग खड़े हुए हैं. तेजप्रताप यादव एक-एक करके सभी से मुलाकात कर रहे हैं. कुछ इसमें तेजप्रताप यादव के समर्थक भी शामिल है. बताया जा रहा है कि तेजस्वी यादव टिकट को लेकर आए लोगों से भी मुलाकात नहीं करते है. ऐसे में तेजप्रताप का लोगों से मिलना हैरान कर रहा है.

दरअसल, बिहार विधानसभा चुनाव में भी तेजप्रताप अपने कई समर्थकों को पार्टी का टिकट दिलाना चाहते हैं. इसलिए इस बार पार्टी में चुनाव से पहले सक्रीय हो गए है. लोकसभा चुनाव के दौरान भी उन्होंने अपने कई समर्थकों को लेकर टिकट मांगे थे, किन्तु उनकी बात नहीं सुनी गई थी. जिसके खिलाफ तेजप्रताप अपने समर्थकों को निर्दलीय चुनाव में खड़ा कराकर अपने ही पार्टी के विरुद्ध चुनाव प्रचार किए थे.

बिना वैक्सीन के नियंत्रण में है इंसेफेलाइटिस, कोरोना से भी जीतेंगे जंग- सीएम योगी

नॉर्वे: इस्लाम विरोधी रैली के दौरान भिड़े दो पक्ष, पुलिस का बैरिकेड तोड़ा

कांग्रेस का केंद्र पर हमला, कहा- चीन ने बॉर्डर पर मिसाइल तैनात की, कहाँ है मोदी सरकार ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -