CM नीतीश पर भड़के तेजस्वी, बोले- 'नहीं संभल रहा बिहार तो दें इस्तीफा'

Jan 13 2021 11:17 AM
CM नीतीश पर भड़के तेजस्वी, बोले- 'नहीं संभल रहा बिहार तो दें इस्तीफा'

पटना: बिहार के मधुबनी जिले में बीते मंगलवार को मूक-बधिर बच्ची के साथ बहुत बुरी हैवानियत हुई है। इस घटना से गाँव के लोगों के साथ ही नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी नाराज है। अब उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अविलंब इस्तीफे की मांग की है। इस घटना से नाराज होकर तेजस्वी यादव ने आज यानी बुधवार को ट्वीट किये हैं। अपने एक ट्वीट में उन्होंने कहा है कि, 'अनैतिक और अवैध सरकार के संरक्षण में अपराधों और दुष्कर्मों की प्रतिदिन संख्या बढ़ना एनडीए की सामूहिक विफलता है।'

 

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा है कि, 'नीतीश जी द्वारा अपराधों को छिपाने की चेष्टा और उसे स्वीकार नहीं करना ही सबसे बड़ा अपराध और अपराधियों के लिए रामबाण है। उनसे बिहार नहीं संभल रहा, वो अविलंब इस्तीफा दें।' वहीँ अपने एक अन्य ट्वीट में वह लिखते हैं, 'मधुबनी में गरीब विकलांग बच्ची के साथ बलात्कार कर दिया गया है। दोनों आंखें भी फोड़ दी गईं हैं। गरीब छोटी छोटी बच्चियों के साथ बिहार में बलात्कार की लगातार खबरें आ रही हैं! पर गरीब जान कर ना सरकार सिहरती है और ना पुलिस हिलती है।'

वहीँ आरजेडी ने भी एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में RJD ने लिखा, 'बिहार के मधुबनी में एक नाबालिग मूक-बधिर लड़की से गैंगरेप के बाद दरिंदों ने उसकी दोनों आंखें फोड़ बाहर निकाल दी। सी-ग्रेड पार्टी के अनुकंपाई मुख्यमंत्री जी, कब तक सत्ता संरक्षित हैवान नाबालिग लड़कियों की अस्मत लूट मानवता और बिहार को शर्मसार करते रहेंगे?'

क्या है मामला- यह मामला बिहार के मधुबनी जिले के हरलाखी थाना क्षेत्र के एक गांव का है। जहाँ दरिंदों ने एक मूक-बाधिर लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और उसके बाद उसकी दोनों आंखें भी फोड़ दी गई। इस घटना को बीते मंगलवार दोपहर की बताया जा रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है अपराधी गांव के ही हैं। कहा जा रहा है इस मामले में एक आरोपी की गिरफ्तारी भी हो चुकी है।

सरकार ने पिछले चार वर्षों में रोजगार एक्सचेंज के जरिये पंजीकृत डेढ़ लाख लोगों को दिया रोजगार: सीएम विजयन

आज मनाया जा रहा लोहड़ी का पर्व, राहुल गाँधी सहित इन नेताओं ने दी शुभकामनाएं

पाक, चीन पारस्परिक रूप से शक्तिशाली खतरा करते है उत्पन्न: जनरल मुकुंद नरवणे