झारखंड से तस्करी कर मध्यप्रदेश लायी जा रही थी किशोरी, पुलिस ने किया भंडाफोड़

रांची: झारखंड में महिला तस्करी के मामले निरंतर सामने आ रहे हैं। हाल ही में एक घटना पलामू जिले से 19 वर्षीय एक लड़की को अगवा कर मध्यप्रदेश में तस्करी के लिए ले जाने की सामने आई है। कथित तौर पर अगवा कर तस्करी के लिए लाई गई लड़की को एमपी के छतरपुर से छुड़ाया गया है तथा 3 व्यक्तियों को अरेस्ट किया गया है। पुलिस ने सोमवार को यह खबर दी।

वही रामगढ़ थाना प्रभारी प्रभात रंजन राय ने कहा कि किडनैप के 5 माह पश्चात् पलामू पुलिसकर्मियों की एक स्पेशल टीम ने महिला को एमपी से छुड़ाया तथा उसे वापस मेदिनीनगर लाया। उन्होंने कहा कि नौकरी का झांसा देकर उसके एक पड़ोसी ने उसे बहला-फुसलाकर एमपी भेज दिया था। अफसर ने बताया कि पड़ोसी उन अपराधियों के साथ कांटेक्ट में था जिनके मानव तस्करों से संबंध हैं। अपनी बेटी की कोई जानकारी न प्राप्त होने पर लड़की की मां ने पुलिस से कांटेक्ट किया था तथा अगस्त 2021 में मुकदमा दर्ज करवाया था।

इसके साथ ही राय ने कहा, "मुख्य अपराधी महिला को पहले छत्तीसगढ़ के रामानुजगंज ले गया तथा फिर एमपी निवासी को 70 हजार रुपये में बेच दिया।" उन्होंने कहा कि गुप्त तहरीर पर कार्रवाई करते हुए स्पेशल टीम ने स्थानीय पुलिस की सहायता से छतरपुर जिले के टिकपुर गांव में छापेमारी की तथा लड़की को छुड़ा लिया। साथ ही तीन व्यक्तियों को अरेस्ट किया गया है। इससे पहले, इसी माह पूर्वी सिंहभूम जिला पुलिस ने झारखंड से मानव तस्करी कर एमपी ले जाई गई साबर जनजाति की दो औरतों एवं एक युवती को छुड़ाया था तथा इस संबंध में एक महिला सहित पांच अपराधियों को अरेस्ट किया था।

सपा की पहली सूची में 31 मुस्लिम और 12 यादव उम्मीदवार, क्या चुनाव में काम आएगा MY फैक्टर ?

क्या आप भी हर महीने पाना चाहते है 3 हजार रूपये? तो यहां करे आवेदन

सरकार हर महीने देगी 3000 रूपये, इन लोगों को नहीं मिलेगा फायदा

Most Popular

- Sponsored Advert -