सेंचुरियन टेस्ट: जीत से महज 6 विकेट दूर टीम इंडिया, क्या बुमराह-शमी कर पाएंगे कमाल ?

सेंचुरियन: टीम इंडिया और अफ्रीका के बीच जारी सेंचुरियन टेस्ट निर्णायक मोड़ पर पहुंच गया है। चौथे दिन की समाप्ति तक 305 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीकी टीम ने अपने चार विकेट गंवा दिए हैं। वहीं दक्षिण अफ्रीका ने चौथे दिन के खेल में 94 रन बनाए हैं. दक्षिण अफ्रीका इस बात से खुश हो सकता है कि उनके कप्तान डीन एल्गर 52 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं, जबकि टेम्बा बावुमा और क्विंटन डी कॉक को अभी भी मैदान पर आना बाकि है। दक्षिण अफ्रीका को जीत के लिए अभी भी 211 रन और बनाने है।

बता दें कि अभी तक सेंचुरियन के सुपरस्पोर्ट पार्क में कोई भी टीम इतने बड़े लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाई है। इंग्लैंड ने 2019 में चौथी पारी में इस मैदान पर सबसे ज्यादा रन बनाए थे। 376 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने 268 रन बनाए थे. इस मैदान पर रिकॉर्ड लक्ष्य का पीछा करते हुए जीत दर्ज करने का रिकॉर्ड भी इंग्लैंड के नाम है। साल 2000 में इंग्लैंड ने 8 विकेट खोकर दक्षिण अफ्रीका के 251 रन के लक्ष्य को हासिल किया था। वहीं, इस मैदान पर टार्गेट का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका ने छह मैच जीते हैं। सबसे अधिक टार्गेट 226 रनों का चेस किया गया है। दक्षिण अफ्रीका ने 1998 में श्रीलंका के खिलाफ चौथी पारी में चार विकेट गंवाकर यह लक्ष्य हासिल किया था।

पांचवें दिन जब दक्षिण अफ्रीका सेंचुरियन में मैदान पर उतरेगी, तो उसे जीत के लिए 211 रनों की दरकार रहेगी. ऐसी परिस्थिति में एक बड़ी साझेदारी दक्षिण अफ्रीका को जीत दिला सकती है। दक्षिण अफ्रीका के निचले क्रम के बल्लेबाजों ने पहली पारी में भी टीम को 200 के करीब पहुंचाने में मदद की थी। भारतीय टीम इस बात से अच्छी तरह वाकिफ है और वह जीत से महज छह विकेट दूर है। टीम इंडिया के गेंदबाजों ने इस टेस्ट में अब तक शानदार गेंदबाजी की है और पांचवें दिन भी सभी को उम्मीद है कि वे अंतिम छह विकेट तेजी से हासिल करेंगे। सेंचुरियन के स्टेडियम में पांचवें दिन बल्लेबाजी करना मुश्किल है और टीम इंडिया के पास सीरीज में 1-0 से बढ़त बनाने का शानदार मौका है।

कवानी के कारण बाल-बाल बची टीम, जानिए कैसे

हीरो आई लीग में तीन टीमों के 10 खिलाड़ी हुए कोरोना से संक्रमित

OMG! चार साल में पहली बार पेनाल्टी पर गोल से चुके ये खिलाड़ी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -